• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

श्रीगंगानगर में नशा मुक्ति केंद्रों का निरीक्षण : कई बंद मिले और कई जगह काउंसलर और स्टाफ नदारद, अवैध केंद्रों को बंद करने के निर्देश

Inspection of drug de-addiction centers in Sriganganagar: Counselors and staff not found, instructions to close illegal centers - Sri Ganganagar News in Hindi

श्रीगंगानगर। जिला कलक्टर सौरभ स्वामी और पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा के नेतृत्व में प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस की टीम ने श्रीगंगानगर शहर में संचालित नशा मुक्ति केन्द्रों का मंगलवार शाम को औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अधिकांश नशा मुक्ति केंद्र बंद मिले जबकि खुले नशा मुक्ति केंद्रों में कई प्रकार के अनियमितताएं मिलीं। इन केंद्रों पर डॉक्टर, स्टाफ, काउंसलर नहीं मिले। सफाई भी नहीं मिली। अधिकांश केंद्रों पर गंदगी थी। जिला कलक्टर ने अवैध रूप से संचालित होने वाले नशा मुक्ति केंद्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। जिला कलक्टर के निर्देश पर प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए कोतवाली, पुरानी आबादी, जवाहर नगर और सदर थाना क्षेत्र में संचालित नशा मुक्ति केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। जिला कलक्टर और एसपी ने सदर थाना क्षेत्र संचालित शहीद भगत सिंह नशा मुक्ति केंद्र ख्यालीवाला, एकम नशा मुक्ति केंद्र पदमपुर रोड, नई जिंदगी नशा मुक्ति केंद्र सूरतगढ़ रोड तथा संकल्प नशा मुक्ति केंद्र होमलैंड सिटी का निरीक्षण किया। संकल्प नशा मुक्ति केंद्र होमलैंड सिटी मौके पर संचालित पाया गया तथा शेष बन्द पाए गए। मौके पर संचालित नशा मुक्ति केंद्र की जांच में संचालन से संबंधित दस्तावेज अपूर्ण पाया गया तथा केंद्र में बहुत सी अनियिमिताएं मिलीं। उक्त नशा मुक्ति केंद्र का पंजीकरण किसी भी संस्था में नहीं होना पाया गया। टीम में सदर थाना प्रभारी कुलदीप चारण, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक श्री सुरेंद्र पूनिया शामिल रहे। जिला कलक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक ने उक्त नशा मुक्ति केंद्र को 2 दिवस में बंद करने के निर्देश दिये।


दूसरी टीम ने प्रशिक्षु अईएएस प्रतीक जुईकर के नेतृत्व में जवाहरनगर थाना क्षेत्रा में संचालित नशा मुक्ति केंद्रों की जांच की। टीम में श्री नरेश निर्वाण थाना अधिकारी पुलिस थाना जवाहरनगर मय जाब्ता, श्री रोहित शर्मा सहायक प्रशासनिक अधिकारी सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग शामिल रहे। टीम ने लाइफ केयर नशा मुक्ति केंद्र सेक्टर नंबर 6 जवाहर नगर व विश्वास नशा मुक्ति केंद्र साधुवाली का निरीक्षण किया। मौके पर कोई भी उपस्थित नहीं मिला। आस-पड़ोस में पूछताछ करने पर पाया गया कि यह नशा मुक्ति केंद्र काफी समय से बंद है, जिसके सम्बन्ध में तथ्यात्मक रिपोर्ट टीम ने जिला कलक्टर को सौंप दी।


तीसरी टीम ने एडीएम सतर्कता उम्मेद सिंह रतनू के नेतृत्व में कोतवाली थाना क्षेत्र में संचालित नशा मुक्ति केंद्रों की जांच की। सद्भावना नगर रोड स्थित नई दिशा नशा मुक्ति केंद्र बिना लाइसेंस संचालित पाया गया। यहां 25 मरीज मिले। इस केंद्र को पहले भी बिना लाइसेंस संचालित नहीं करने के लिए नोटिस जारी किया गया था। टीम ने केंद्र संचालक को 2 दिन में नशा मुक्ति केंद्र बंद करने और लाइसेंस प्राप्त करने के बाद ही केंद्र संचालन के लिए पाबंद किया। टीम को साईं मंदिर के पास स्थित राम नशा मुक्ति केंद्र और आदर्श नशा मुक्ति केंद्र/बी पॉजिटिव नशा मुक्ति केंद्र बंद मिला। तहसीलदार के नेतृत्व में टीम ने श्याम जनजागृति सेवा समिति नशा मुक्ति केंद्र तीन छोटी की जांच की। बिना लाइसेंस संचालित किए जा रहे इस केंद्र पर 4 मरीज मिले पहले भी इस केंद्र को बिना लाइसेंस संचालित नहीं करने पर नोटिस जारी किया गया था। टीम ने केंद्र संचालक को 2 दिन में नशा मुक्ति केंद्र बंद करने और लाइसेंस प्राप्त करने के बाद ही केंद्र संचालन के लिए पाबंद किया। इसके अलावा टीम को श्याम नशा मुक्ति केंद्र और न्यू लाइफ नशा मुक्ति केंद्र बंद मिला।


चौथी टीम ने पुरानी आबादी क्षेत्र में संचालित नशामुक्ति केंद्र पर छापेमारी की। टीम में एसडीएम श्री मनोज कुमार मीणा, थाना अधिकारी श्री सुरजीत श्योराण एवं परिवीक्षा अधिकारी श्री संदीप कुमार शामिल थे। पुरानी आबादी में शुभ सवेरा नशा मुक्ति पुनर्वास केंद्र में कोई मरीज नहीं मिला। मौजूद स्टाफ को बिना लाइसेंस के नशमुक्ति केंद्र नहीं संचालित करने की हिदायत दी गई। न्यू थिंक नशा मुक्ति केंद्र द्वारा अवैध रूप से नशामुक्ति केंद्र का संचालन किया जा रहा था। यहां 11 मरीज मिले। राजस्थान निर्वयसन केंद्र संचालन नियम 2020 के अनुसार यहां कोई चिकत्सक, काउंसलर, नसिंग स्टाफ, सुरक्षा कर्मी इत्यादि उपस्थित नहीं था। नशामुक्ति केंद्र में बिस्तर, सफाई, मरीजों के रिकॉर्ड व दवाइयां इत्यादि भी नहीं मिले।



श्री पूनिया ने बताया कि जिला कलक्टर के निर्देश पर अवैध रूप से संचालित नशा मुक्ति केंद्रों को पूर्व में भी नोटिस देकर संचालन बंद करने की हिदायत दी गई थी। इन नशा मुक्ति केंद्र द्वारा उक्त आदेश की पालना नहीं की गई और आज भी जांच के दौरान अवैध रूप से नशा मुक्ति केंद्रों का संचालन पाया गया। इन सभी को 2 दिन में अवैध रूप से संचालित केंद्रों को बंद करने और नोटिस की पालना रिपोर्ट भिजवाने के लिए निर्देशित किया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Inspection of drug de-addiction centers in Sriganganagar: Counselors and staff not found, instructions to close illegal centers
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: sriganganagar, counselors and staff not found, instructions, illegalcenters, drug de-addictioncenters, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, sri ganganagar news, sri ganganagar news in hindi, real time sri ganganagar city news, real time news, sri ganganagar news khas khabar, sri ganganagar news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2023 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved