• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

ड्रोन तकनीक बराबर है, लेकिन उनका उपयोग अलग-अलग तरह से होता है

Drone technology is the same, but they are used in different ways - World News in Hindi

बीजिेंग। अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान और शांति सप्ताह आने वाला है। वह प्रत्येक वर्ष 11 नवंबर के सप्ताह को संदर्भित करता है। वर्ष 1988 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने प्रस्ताव पारित कर इसकी स्थापना की। इस सप्ताह के दौरान विभिन्न सदस्य देश संबंधित गतिविधियों का आयोजन कर विश्व शांति व सामाजिक विकास में प्रौद्योगिकी की महत्वपूर्ण भूमिका का प्रसार-प्रचार करते हैं। साथ ही, शांतिपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय वातावरण प्राप्त करने के लिये कोशिश भी करते हैं।

इस मौके पर हम ड्रोन के बारे में कुछ कहना चाहते हैं, क्योंकि ड्रोन कृत्रिम बुद्धि के युग के उत्पाद हैं और विज्ञान में सबसे आगे का प्रतिनिधित्व करते हैं। हालांकि इस दुनिया में ड्रोन तकनीक बराबर है, लेकिन विभिन्न देशों में इसका उपयोग अलग-अलग तरह से होता है।

बताया जाता है कि 7 नवंबर की सुबह इराक की राजधानी बगदाद में स्थित प्रधानमंत्री भवन में ड्रोन हमला हुआ है। घटनास्थल पर ²श्य अस्त-व्यस्त था, शीशा चकनाचूर हो गया, दरवाजा हिल गया और कार भी नष्ट हो गई। गनीमत रही कि प्रधानमंत्री मुस्तफा कदेमी समय रहते वहां से चले गये थे और घायल नहीं हुए, लेकिन उनके छह अंगरक्षक सभी घायल हुए।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री भवन एक देश में सब से सुरक्षित क्षेत्र में स्थित है। वहां हाई सिक्योरिटी है, लेकिन ड्रोन नाकाबंदी को तोड़कर आसानी से हमला कर सकता है। वास्तव में राष्ट्रीय नेता की हत्या पहले भी ड्रोन से हुई है। अगस्त 2018 में वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो मोरोसो सेना की समीक्षा कर रहे थे। अचानक, विस्फोटक ले जा रहे दो ड्रोन लाइन में लगे सैनिकों के पास से गुजरे और मादुरो पर हमला शुरू कर दिया। हालांकि यह हमला विफल रहा, लेकिन इसका कुप्रभाव लाइव प्रसारण के साथ पूरे देश में प्रसारित किया जाता है।

उन ड्रोन हमले के पीछे किस का हाथ है? हम स्पष्ट रूप से यह नहीं बता सकते। लेकिन सभी लोग यह जानते हैं कि अमेरिका का सैन्य ड्रोन विश्व प्रसिद्ध है, जो वास्तव में एक परिष्कृत लड़ाकू जेट है। यह मिसाइलों को लॉन्च करता है और लक्ष्य को नष्ट कर देता है। यह अक्सर दर्जनों या सैकड़ों लोगों को मार सकता है।

शायद कुछ लोग कहेंगे कि चूंकि ड्रोन की विनाशकारी शक्ति इतनी शक्तिशाली होती है, इसलिए इसके उपयोग और अनुसंधान व विकास को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। ऐसे लोग जरूर यह नहीं जानते हैं कि विभिन्न देशों के प्रति ड्रोन के अलग-अलग उपयोग होते हैं।

भारत के पड़ोसी देश चीन में ड्रोन शांति व सामाजिक विकास में अपनी भूमिका अदा कर रहा है। हाल के कई वर्षों में ड्रोन ने चीन में एक जोरदार विकास गति दिखाई है। इसके संबंधित उत्पाद यातायात पर्यवेक्षण, फिल्म और टेलीविजन शूटिंग, कृषि संयंत्र संरक्षण, वन संरक्षण, भूवैज्ञानिक अन्वेषण, इलेक्ट्रिक क्रूज, पर्यावरण संरक्षण और आपातकालीन बचाव जैसे कई क्षेत्रों में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है।

उदाहरण के लिये चीन भारत की तरह एक बड़ा कृषि देश है। अरबों लोगों की खाद्य समस्या का समाधान बेहद जरूरी है। आधुनिक कृषि के विकास के लिए कृषि यंत्रीकरण एक महत्वपूर्ण अन्वेषण दिशा है। जब ड्रोन कृषि में काम करता है, तो वह इलाके द्वारा प्रतिबंधित नहीं है, सटीक रूप से फैलता है, और उच्च दक्षता है। ड्रोन का प्रयोग बुद्धिमान कृषि उत्पादन प्राप्त करने, किसानों के रोपण की श्रम तीव्रता को कम करने, पानी व कीटनाशक को बचाने और कृषि भूमि के पारिस्थितिक पर्यारवण की रक्षा करने के लिये लाभदायक है।

इस के अलावा भूकंप, बाढ़ या आग का सामना करते समय, ड्रोन जीवन रक्षक उपकरण और आपूर्ति (लाइफबॉय, लाइफ जैकेट, भोजन और दवा आदि) को प्रतिबंधों के तहत अलग-अलग फंसे क्षेत्रों में फेंक सकता है, जहां वाहनों और जहाजों द्वारा परिवहन के लिए अनुकूल नहीं हैं। इस उपलक्ष्य में ड्रोन कुशल और तेजी से वितरण की मदद दे सकता है। आपदा के बाद, ड्रोन का उपयोग आपदा क्षेत्र कीटाणुरहित करने के लिए दवाओं का छिड़काव करने में किया जा सकता है। महामारी की रोकथाम के संदर्भ में, चीन के कई मोहल्लों और समुदायों में, महामारी को बेहतर ढंग से रोकने के लिए समुदाय की कीटाणुशोधन और दवाओं का छिड़काव करने के लिए ड्रोन का उपयोग भी किया जाता है।

इसलिए, ड्रोन मनुष्यों के लिए जो लाते हैं वह न केवल विनाशकारी हमले और हत्याएं हैं, बल्कि यह देश के उपयोग के उद्देश्य पर भी निर्भर करता है। भविष्य में कृत्रिम बुद्धिमत्ता, 5जी, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, क्लाउड कंप्यूटिंग, बिग डेटा, वर्चुअल तकनीक और ड्रोन के साथ निरंतर एकीकरण के विकास से ड्रोन निश्चित रूप से बुद्धिमान ²ष्टि और गहन सीखने वाले हवाई रोबोट बन जाएंगे, और अधिक क्षेत्रों में अधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।
(आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Drone technology is the same, but they are used in different ways
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: drone, drone technology is the same, but they are used in different ways, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved