• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 31

‘ग्राम’ -2016 :सीएम राजे ने की किसानों के हित में कई घोषणाएं

जयपुर। प्रदेश के एग्रीकल्चर सेक्टर में निवेश को लेकर ग्लोबल एग्रीटेक मीट (ग्राम) बुधवार से सीतापुरा स्थित जेईसीसी में शुरू हो गया। राज्यपाल कल्याण सिंह ने दीप प्रज्जवलित कर ‘ग्राम’ का विधिवत शुभारम्भ किया। इस मौके परमुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि किसानों को खेती की नवीनतम तकनीक से जोड़ने की महत्त्वाकांक्षी योजना के तहत प्रदेश की सभी पंचायत समितियों में कृषि उपकरण केन्द्र (कस्टम हायरिंग सेंटर) खोले जाएंगे। उन्होंने किसानों और निवेषकों के लिए कई घोषणाएं की। उन्होंने कहा कि सरकार राज्य में कृषि आधुनिकीकरण करना चाहती है, जिसके लिए किसानों और कृषि क्षेत्र से जुड़े उद्यमियों को एक साथ आना होगा। श्रीमती राजे ने कहा कि कस्टम हायर केन्द्रों के जरिए किसानों को किराये पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जाएंगे। इन केन्द्रों को उपलब्ध कृषि यंत्रों की एडवांस बुकिंग के लिए इन्टरनेट और टोल-फ्री फोन सुविधा से जोड़ा जाएगा। अगले तीन साल में 2,652 ऐसे केन्द्र खोले जाएंगे जिनके माध्यम से हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा।मुख्यमंत्री ने राज्य में कृषि, आयुर्वेद और मेडिकल ट्यूरिज्म के क्षेत्र में निवेश एवं रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए ‘राजस्थान औद्योगिक प्रोत्साहन योजना-2014‘ (रिप्स) के अंतर्गत विभिन्न अनुदान, लाभ और करों में छूट देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इसके लिए कृषि प्रसंस्करण एवं विपणन नीति और रिप्स-2014 में भी विशेष प्रावधान किए गए हैं।
श्रीमती राजे ने कृषि प्रसंस्करण एवं विपणन की ऐसी इकाइयों के लिए कन्वर्जन फीस में शत-प्रतिशत छूट की घोषणा की, जिनके प्रोजेक्ट राजस्थान कृषि प्रसंस्करण एवं कृषि विपणन प्रोत्साहन नीति-2015 के अंतर्गत 31 मार्च, 2019 से पहले स्वीकृत हो जाएंगे।
मुख्यमंत्री ने आयुर्वेदिक पंचकर्म, योग तथा प्राकृतिक चिकित्सा जैसी सुविधा उपलब्ध कराने वाले हैल्थ केयर सेंटरों तथा मधुमक्खी पालन के लिए भी रिप्स के तहत लाभ देने की घोषणा की। उन्होंने किसानों और उद्यमियों का आह्वान किया कि वे इन प्रावधानों का लाभ उठाएं, जिससे कृषि और आयुर्वेद के क्षेत्र में निवेश और रोजगार के अवसर बढें
श्रीमती राजे ने कहा कि राज्य में कृषि विपणन व्यवस्था को प्रभावी बनाने के लिए आदर्श कृषि उपज मण्डी अधिनियम 2003 से भी आगे बढ़कर सुधार किए गए हैं। इनमें सीधी खरीद के लिए अनुज्ञापत्र, विशेष अनुज्ञापत्र, निजी मण्डी परिसर, अनुबंधित खेती आदि शामिल हैं। कृषि-प्रसंस्करण एवं कृषि-विपणन नीति-2015 से कृषि उत्पादों में वेल्यू एडीषन के साथ-साथ फसल कटाई के बाद प्रबन्धन और कृषि विपणन में नई तकनीकों को बढ़ावा मिल रहा है।
यह भी पढ़े :खास खबर SPECIAL: शरीयत में क्या फलसफ़ा है तलाक़ का, पढ़ें पूरा मामला

यह भी पढ़े :खास खबर Exclusive : कांग्रेस की नहीं, अपनी प्रतिष्ठा बचाने में लगे पीके !

यह भी पढ़े

Web Title-Global Rajasthan Agritech Meet start today
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: global rajasthan agritech meet, gram2016, start, today, jaipur, rajasthan hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, breaking news of rajasthan, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved