• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

सडक़ दुर्घटनाओं में मिर्गी की बेहोशी कर जाती है बेजान, आंकड़ों में हो सकती है वृद्धि

Epilepsy can harmful in road accident, numbers can increase - Jodhpur News in Hindi

जोधपुर। राजस्थान में सडक़ दुर्घटनाओं में अधिकांश मिर्गी की बीमारी से परेशान लोग चपेट में आ रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक पश्चिमी राजस्थान में 4 लाख मिर्गी रोगी हैं और आने वाले समय में इनकी संख्या बढक़र दुगुनी तक हो सकती है। इसके अलावा ग्लोबल वार्मिंग की वजह से थार के मौसम में आ रहे एक्सट्रीम बदलावों की वजह से भी मिर्गी होने की आशंका प्रबल होती जा रही है।

सडक़ दुर्घटना में सिर पर चोट लगने के बाद अगर घायल आधे घण्टे बेहोश रहता है तो उसके मिर्गी होने की आशंका प्रबल हो जाती है। चोट से उसके सिर के न्यूरोन के चारों तरफ की कोई परत टूट फूट जाती है और मस्तिष्क का करंट खुद मस्तिष्क को ही झटके देने लगता है। रिपोर्ट के मुताबिक सिर पर चोट लगने वाले 96 फीसदी घायलों को मिर्गी हुई है।

न्यूरो सर्जन डॉ. नगेंद्र शर्मा की माने तो मिर्गी कभी खत्म नहीं होगी और लगातार बढ़ रही सडक़ दुर्घटनाओं से इसका ग्राफ बढ़ रहा है। मारवाड़ में अभी 4 फीसदी मिर्गी रोगी है जो बढक़र सात फीसदी तक हो सकते हैं। ऐसे में लोगों को सावधान करने की आवश्यकता है जिससे कम से कम लोग कालकवलित हों ।

[@ 27 लाख की यह कार साढ़े 53 लाख में हुई नीलाम, जानें क्यों हुआ ऐसा]

यह भी पढ़े

Web Title-Epilepsy can harmful in road accident, numbers can increase
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: rajasthan news, hindi news, road accident in rajasthan, news in hindi, breaking news in hindi, jodhpur news, jodhpur news in hindi, real time jodhpur city news, real time news, jodhpur news khas khabar, jodhpur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved