• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

धीमी शुरूआत, दमदार निर्देशकीय पकड़ व अभिनय, स्क्रीन से नजर नहीं हटवाती महारानी-3

Slow start, strong directorial hold and acting, Maharani-3 does not make you take your eyes off the screen - Movie Review in Hindi




—राजेश कुमार भगताणी



सुभाष कपूर द्वारा निर्मित वेब सीरीज महारानी के पिछले दो भाग बेहतरीन कथानक के साथ दमदार अभिनय और निर्देशकीय पकड़ के चलते दर्शकों पर अपना गहरा प्रभाव छोड़ने में सफल हुए थे। दूसरे भाग के अन्त के साथ ही दर्शकों को इसके तीसरे भाग का इंतजार था। दर्शकों का यह इंतजार आज खत्म हुआ जब महारानी का 3रा भाग सोनी लिव पर स्ट्रीम हुआ।


महारानी की जान है इसकी मुख्य नायिका हुमा कुरैशी, जिन्होंने इसके पिछले दो सीजन में अपने अभिनय के भिन्न रंगों को अपनी भावाभिव्यक्ति के जरिये दर्शकों के सामने रखा था। बिहार और उसकी राजनीति पर बनी सीरीज के 3रे सीजन में हुमा को एक बार फिर रानी भारती का किरदार निभाते देखा जा सकता है। सीरीज की कहानी में कई मोड़ आने के बाद हम सभी ने 'महारानी' सीजन 2 में रानी भारती के पति और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री भीमा भारती की मौत होते देखी थी। इसका इल्जाम रानी भारती पर लगा और सत्ता नवीन कुमार की झोली में जा गिरी। नए सीजन में आगे की कहानी को दिखाया गया है।

'महारानी 3' की शुरुआत में रानी भारती को जेल में देखा जाता है। दर्शकों को पता चलता है कि अपने पति भीमा भारती की मौत का इल्जाम उनके सिर लगा था, जिसकी सजा वो पिछले तीन सालों से काट रही हैं। रानी जेल में अपना वक्त दूसरी महिला कैदियों की मदद करके और अपनी पढ़ाई पूरी करके बिता रही हैं।


दूसरी ओर नवीन कुमार मुख्यमंत्री बनकर पूरे बिहार को अपनी उंगली पर नचा रहे हैं। उनकी पार्टी के लोग अपनी काली करतूतों को जारी रखे हुए हैं, लेकिन इन्हीं में से कुछ लोग नवीन कुमार की पीठ में छुरा भी घोंपने की कोशिश में हैं। ऐसे में क्या नवीन अपनी सरकार बचा पाएंगे? क्या रानी भारती जेल से बाहर आकर अपनी बेगुनाही साबित कर पाएंगी? और नवीन व उनकी पलटन से रानी भारती बदला कैसे लेंगी, यही 'महारानी 3' में देखने वाली बात है।


सीरीज के निर्देशक सौरभ भावे ने 3रे भाग पर अपनी पकड़ मजबूत रखी है। उन्होंने इसमें राजनीति, ड्रामा और सस्पेंस सब कुछ कुशलता के साथ पकड़ा है। हमेशा की तरह इस बार भी बिहार की राजनीति को काफी दिलचस्प तरीके से परदे पर उतारा गया है। सीरीज की शुरुआत धीमी जरूर है, लेकिन दृश्य-दर-दृश्य जब इसकी परतें खुलती हैं तो दर्शक स्वयं को इससे बंधा पाता है। कहानी में कई रोचक मोड़ हैं जो आने वाले दृश्यों के लिए दर्शकों को उत्साहित करते हैं। सीजन 3 का सम्पादन (एडिटिंग) और छायांकन (सिनेमेटोग्राफी) तारीफ-ए-काबिल है। साथ ही बैकग्राउंड म्यूजिक आपको कहानी के साथ इंगेज करता है। पिछले दो सीजन के मुकाबले 'महारानी 3' के गाने भी काफी अच्छे हैं।


अब बात करें अदाकारों के अभिनय की तो सभी अदाकारों ने अपनी-अपनी भूमिका को बड़ी शिद्दत के साथ परदे पर उतारा है। विशेष रूप से रानी भारती के रोल में हुमा कुरैशी एक बार फिर दमदार काम करती नजर आई हैं। इस किरदार पर उनकी पकड़ को साफ देखा जा सकता है। हुमा के साथ-साथ अमित सियाल भी नए सीजन के हीरो हैं। उन्होंने नवीन कुमार की पॉलिटिक्स, दुविधा और सत्ता को लेकर भूख को अमित सियाल ने बहुत खूबसूरती से पर्दे पर उतारा है। इसके अलावा कानी कुश्रुति, प्रमोद पाठक, विनीत कुमार, दिब्येंदु भट्टाचार्य, अनुजा साठे, सुशील पांडे और अतुल तिवारी सहित शो के बाकी कलाकारों का काम बढ़िया है।


यदि आपने महारानी के पिछले दो सीजन को देखा है तो फिर आप इसके 3रे सीजन को जरूर देखिए। इसे देखकर आपको आनन्द की अनुभूति होगी।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Slow start, strong directorial hold and acting, Maharani-3 does not make you take your eyes off the screen
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: slow start, strong directorial hold and acting, maharani-3 does not make you take your eyes off the screen, bollywood movie reviews, hindi movie reviews, latest bollywood movie reviews, latest movie reviews
Khaskhabar.com Facebook Page:

गॉसिप्स

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved