• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जैसलमेर जिले में टिड्डियों पर नियंत्रण के लिए युद्धस्तर पर चौतरफा प्रयास जारी

All-round efforts continue on war footing to control locusts in Jaisalmer district - Jaipur News in Hindi

जयपुर। जैसलमेर जिले में टिड्डियों के भारी प्रकोप के मद्देनज़र जिले में सरकारी मशीनरी हाई अलर्ट पर है और हर क्षेत्र मेंं टिड्डी नियंत्रण के लिए युद्धस्तर पर सभी संभव उपाय किए जा रहे हैं।
हाल के दिनों में भारी संख्या में आए टिड्डी दलों के प्रकोप के मद्देनज़र टिड्डी नियंत्रण विभाग की ओर से जिले के विभिन्न क्षेत्रों में 20 टिड्डी नियंत्रण वाहन अपनी पूरी क्षमता के साथ स्प्रे के जरिये टिड्डी नियंत्रण में जुटे हुए हैं। टिड्डियों द्वारा भारी प्रकोप को देखते हुए राज्य सरकार ने जैसलमेर जिले के लिए 10 अतिरिक्त टिड्डी नियंत्रण वाहन मुहैया कराएं हैं। इससे टिड्डी नियंत्रण गतिविधियों को सम्बल प्राप्त हुआ है। जिले में टिड्डियों पर प्रभावी नियंत्रण अभियान को गति देने के लिए जिला कलक्टर नमित मेहता ने शनिवार को राजस्व एवं प्रशासनिक अधिकरियों सहित सभी संबंंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और युद्धस्तरीय प्रयासों को और अधिक तेज करने के निर्देश दिए।


मुख्यालय पर रहें और त्वरित कार्रवाई करें:
जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि टिड्डी प्रकोप पर नियंत्रण प्रयासों को देखते हुए जिले भर में पटवारियों, ग्राम विकास अधिकारियों, कृषि पर्यवेक्षकों आदि ग्राम्यस्तरीय राज्यकर्मियों को अनिवार्य रूप से मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए और कहा कि ये कार्मिक टिड्डी प्रकोप की जानकारी सामने आते ही तत्काल इसकी सूचना टिड्डी नियंत्रण विभाग, नियंत्रण कक्षों और अपने उच्चाधिकारियों को देंगे तथा टिड्डी नियंत्रण के लिए अपने क्षेत्र के किसानों को समझाईश कर नियंत्रण के उपाय सुनिश्चित करेंगे।


कीटनाशकों पर अनुदान हुआ दोगुना:
जिला कलक्टर ने बताया कि राज्य सरकार ने जिले में टिड्डी नियंत्रण के लिए पौध संरक्षण रसायनों पर अनुदान की राशि को बढ़ाकर दुगूना कर दिया है। अब पौध संरक्षण रसायनों की वास्तविक लागत या अधिकतम 1000 रुपए प्रति हैक्टेयर (जो भी कम हो) देय होगा। एक किसान को अधिकतम 2 हैक्टेयर तक के लिए ही अनुदान देय है। किसानों द्वारा खरीदे गए रसायनों की पूरी की पूरी अनुदान राशि बाद में वापस किसानों के खाते में जमा हो जाएगी। इस तरह दवाइयों का सौ फीसदी सरकार भुगतेगी।

जिला कलक्टर ने टिड्डी प्रभावित किसानों का आह्वान किया है कि वे अपने नजदीकी ग्राम सेवा सहकारी समितियों से अनुदान पर पौध संरक्षण रसायन क्लोरोपॉयरीफॉस 20 ईसी ( 1200 एमएल प्रति हेक्टेयर) तथा 50 ईसी ( 480 एमएल प्रति हेक्टेयर) और मैलाथियोन 50 ईसी ( 1850 एमएल प्रति हेक्टेयर) प्राप्त कर 300 से 400 लीटर पानी में मिलाकर प्रति हेक्टेयर छिड़काव कर अपनी फसलों को टिड्डियों से बचाएं।

इन ग्राम सेवा सहकारी समितियों पर उपलब्ध हैं पौध रसायन:
ये पौध संरक्षण रसायन जैसलमेर उपभोक्ता भण्डार सहित चांधन, देवीकोट, सांगड़, लाठी, लोहारकी, रामगढ़, 2 पीटीएम, मोहनगढ़ एवं तेजपाला ग्राम सेवा सहकारी समितियों से प्राप्त कर सकते हैं। इन सभी पर पर्याप्त मात्रा में ये उपलब्ध है। इसके लिए किसान जमाबन्दी, आधार कार्ड एवं बैंक पास बुक की छायाप्रतियों के साथ ग्राम सेवा सहकारी समिति पहुंचकर वहां उपस्थित कृषि पर्यवेक्षक से परमिट प्राप्त कर वहीं से पौध संरक्षण दवाइयां प्राप्त कर सकते हैं। अनुदान की राशि डीबीटी से किसानों के खाते में जमा हो जाएगी।


टिड्डी नियंत्रण के लिए संचालित नियंत्रण कक्षों पर दें सूचनाएं:
बैठक में जानकारी दी गई कि टिड्डियों पर नियंत्रण अभियान के लिए जिले में विभिन्न स्थानों पर संचालित टिड्डी नियंत्रण कक्ष निरन्तर चल रहे हैं। टिड्डी नियंत्रण विभाग के नियंत्रण कक्ष का नम्बर 02992 - 252161, कृषि विभागीय नियंत्रण कक्ष का नम्बर 02992-252636(जैसलमेर), कृषि विभाग के तहसील स्तरीय सहायक कृषि अधिकारियों के वहां स्थापित नियंत्रण कक्षों के नम्बर - 9001766060 (फतेहगढ़ -मोहनलाल), 7568152030 (सम - ओमप्रकाश), 7737646768(जैसलमेर - धर्मेन्द्र कुमार), 9414469569 (पोकरण-मदनसिंह) तथा 9636008005 (मोहनगढ़ व रामगढ़ - दिलीपसिंह) हैं। जिला स्तर पर कलक्ट्री में संचालित नियंत्रण कक्ष का फोन नम्बर 02992 - 250082 है। टिड्डी आगमन एवं इनके सांयकालीन पड़ाव आदि से संबंधित सूचनाओं के लिए किसान इन नियंत्रण कक्षों पर दे सकते हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-All-round efforts continue on war footing to control locusts in Jaisalmer district
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaisalmer, locust control, locust outbreak, state government, ashok gehlot government, congress government, chief minister ashok gehlot, locust control vehicle, jaipur news, rajasthan news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved