• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

रेल मंत्रालय जो कहता है, वो करता है -पीयूष गोयल

Railway Ministry does what it says - Piyush Goyal - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली, | रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया है कि रेल मंत्रालय जो कहता है, वो करता है। उन्होंने कहा कि राज्यों ने 'श्रमिक स्पेशल' ट्रेनों की जितनी मांग की थी, उससे ज्यादा रेल मंत्रालय ने उपलब्ध कराया।

इसके अलावा रेल मंत्री ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद यादव की सोमवार को इस संदर्भ में की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस के वीडियो को भी ट्वीट किया। गौरतलब है कि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद यादव ने सोमवार को कहा था कि रेल मंत्रालय ने 4 जून से 14 जून के बीच राज्यों की मांग से, कहीं ज्यादा 222 ट्रेनें चलायी हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि पिछले दिनों में लगातार तीन पत्र राज्य सरकारों के प्रमुख सचिवों को लिखे गए थे, जिसके बाद राज्य सरकारों ने 171 ट्रेनों की मांग रेल मंत्रालय से की थी। उन्होंने कहा कि 14 जून को एक और पत्र विभिन्न राज्यों के सचिवों को लिखा गया है, जिसमें राज्यों को आवश्यकता के मुताबिक ट्रेनों की जरूरत बताने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि रेल मंत्रालय किसी भी राज्य को अतिरिक्त श्रमिक स्पेशल ट्रेनें मुहैया कराने को तैयार है, लेकिन इसके लिए राज्यों को 24 घंटे पहले अपनी आवश्यकता रेल मंत्रालय को बतानी होगी।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने यह भी कहा था कि रेल मंत्रालय अब तक 60 लाख यात्रियों को अपने गन्तव्य तक पहुंचा चुकी है और पिछले कुछ दिनों में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की मांग धीरे-धीरे घट रही है।

--आईएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Railway Ministry does what it says - Piyush Goyal
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: piyush goyal, railway ministry, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved