• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

भाजपा शरणार्थी सम्मेलनों के जरिए बाहर से आए हिंदुओं में बना रही पैठ

BJP making inroads into Hindus from outside through refugee conferences - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) बनने के बाद भाजपा ने अब देश के उन इलाकों पर फोकस किया है, जहां पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में अत्याचार के कारण जान बचाकर भागे हिंदू, बौद्ध आदि अल्पसंख्यक शरणार्थी रह रहे हैं।

शरणार्थी सम्मेलनों के जरिए भाजपा उन्हें नए कानून के तहत नागरिकता लेने के तौर-तरीकों के बारे में बता रही है। इन सम्मेलनों के जरिए देश के तमाम हिस्सों में रहने वाले हजारों शरणार्थियों का दिल जीतने की कोशिश है। ऐसे सम्मेलन दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल सहित पूर्वोत्तर के राज्यों में होने हैं। इन राज्यों में सर्वाधिक शरणार्थी रहते हैं।

बिहार में फिलहाल भाजपा दो शरणार्थी सम्मेलनों का आयोजन कर चुकी है। बीते 25 दिसंबर को पूर्वी चंपारण सीट से सांसद राधा मोहन सिंह के संसदीय क्षेत्र के मोतिहारी सिरसा शरणार्थी कॉलोनी में सम्मेलन हुआ जिसमें पूर्वी पाकिस्तान से आए पीड़ित हिंदू शामिल हुए। राधा मोहन सिंह के मुताबिक उनके संसदीय क्षेत्र मे पाकिस्तान में अत्याचार का शिकार होकर आए हिंदुओं की संख्या करीब 20 हजार है, जबकि अकेले सिरसा गांव में इनकी आबादी लगभग एक हजार करीब है।

इसी तरह बीते गुरुवार को पश्चिमी चंपारण के सांसद और बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के संसदीय क्षेत्र स्थित हजारी शरणार्थी कालोनी बेतिया में भी ऐसा सम्मेलन हुआ। यहां बांग्लादेश से आए हिंदू शरणार्थी रहते हैं। इस दौरान कई शरणार्थियों ने मंच से कहा कि अगर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने नागरिकता कानून नहीं बनाया होता तो फिर बांग्लादेश जाने से बेहतर वे मर जाना पसंद करते।

मध्य प्रदेश में करीब दस हजार शरणार्थी रहते हैं। दिल्ली में पाकिस्तान से आए हिंदुओं के अलावा अफगानिस्तान से भागे 70 हजार से ज्यादा सिख रहते हैं। भाजपा यहां भी जनसंपर्क अभियान चला रही है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-BJP making inroads into Hindus from outside through refugee conferences
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: citizenship amendment act, bjp focus, bangladesh, atrocities in afghanistan, minority refugees, new delhi, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved