• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

डॉक्टर बनने की तमन्ना दिल में लिए चली गई ‘खुशी’

Khushi of Bhilwara died with desire to be The doctor in heart - Bhilwara News in Hindi

भीलवाड़ा। 16 साल की खुशी जो बड़ी होकर सेना में डॉक्टर बन सरहद पर घायल सैनिकों का इलाज करना चाहती थी, अब दुनिया को अलविदा कहकर चली गई। खुशी की दोनों किडनी खराब थीं और उसे ओ पॉजिटिव ग्रुप वाला कोई डोनर नहीं मिल सका। खुशी की मौत का रुदन उसके गांधी नगर स्थित घर पर सुनाई दे रहा है। खुशी त्रिपाठी की दोनों किडनी खराब हो गई थीं। उसने ओ पॉजिटिव ग्रुप के लोगों से किडनी डोनेट करने की प्रार्थना भी की थी। खुशी ने इच्छा जाहिर की थी कि वह पढ़-लिखकर डॉक्टर बनना चाहती है और देश की सीमाओं पर लड़ाई में घायल होने वाले जांबाज सैनिकों का इलाज करना चाहती थी। किडनी दान-दाताओं के अभाव में खुशी अपनी इच्छा सीने में समाए इस दुनिया को अलविदा कह गई। कपड़े की एक दुकान पर 7 हजार रुपए माह की नौकरी करने वाले खुशी के पिता मनोज त्रिपाठी ने अपना सबकुछ दांव पर लगाकर खुशी के इलाज का हरसंभव प्रयास किया मगर, गुरुवार को खुशी जिला अस्पताल में अंतिम सांस ले मौत के आगे हार गई। खुशी के पिता मनोज त्रिपाठी को मलाल है कि किडनी दानदाता के अभाव में उनकी बेटी डॉक्टर बनकर सीमा पर घायल सैनिकों का इलाज करने की अपनी अधूरी इच्छा लिए चली गई।

[@ गर्ल्स के उत्साह, उमंग और उत्सव में खिली दिल की धडक़न]

यह भी पढ़े

Web Title-Khushi of Bhilwara died with desire to be The doctor in heart
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: khushi, bhilwara, died, desire, doctor, heart, news of bhilwara, rajasthan news, rajasthan hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, breaking news of rajasthan, news of rajasthan, bhilwara news, bhilwara news in hindi, real time bhilwara city news, real time news, bhilwara news khas khabar, bhilwara news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved