• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

बुराड़ी कांड : पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ये हुआ खुलासा, एक नोट्स और बरामद

Burari deaths: Post-mortem report confirms death by hanging but mystery remains unsolved - India News in Hindi

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के बुराड़ी स्थित एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत के बाद पूरा देश हिल गया था। इतनी बड़ी घटना के बाद समझ पाना मुश्किल था कि आर्थिक तौर पर संपन्न परिवार के आखिर मौत कैसे हुई। लेकिन बुधवार को भाटिया परिवार के 11 लोगों की मौत के रहस्य से पर्दा उठ गया है। इस मामले में 10 लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई, जिमसें पुलिस थ्योरी सही साबित होती दिख रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस का कहना है 10 लोगों की मौत फंदे पर झूलने से हुई है। शरीर पर चोट के कोई निशान नही हैं। ऐसे में कहा जा सकता है कि 10 लोगों की मौत फंदे पर झूलने से हुई है। अभी इस मामले में घर की सबसे बुजुर्ग महिला नारायणी देवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है।

दरअसल, नारायणी देवी की बॉडी कमरे में जमीन पर पड़ी मिली थी। इनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सभी डॉक्टर्स की राय मेल नहीं खा रही है, इसलिए मंगलवार को डॉक्टर्स की टीम ने घर का मुआयना भी किया था। इसलिए डॉक्टर्स की टीम एक बार फिर आपस में बातचीत करके फाइनल रिपोर्ट देगी, जिससे नारायणी देवी की मौत की असल वजह पता चल पाए।

परिवार के रजिस्टर में लिखी दीवाली की बात...

इससे पहले भाटिया परिवार से प्राप्त रजिस्टर में ‘भटकती आत्मा’ का जिक्र है। उसमें साथ ही आशंका जाहिर की गई है कि परिवार अगली दीवाली नहीं देख सकेगा। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मृतकों में से एक ललित सिंह चुंडावत के शरीर में कथित तौर पर उसके पिता की आत्मा आती थी और इसके बाद वह अपने पिता की तरह हरकतें करता था और नोट लिखवाया करता था। रजिस्टर में 11 नवंबर, 2017 की तारीख में ललित ने परिवार के ‘कुछ हासिल’ करने में विफल रहने के लिए ‘किसी की गलती’ का जिक्र किया है। उसमें कहा गया है, ‘धनतेरस आकर चली गई। किसी की पुरानी गलती की वजह से कुछ प्राप्ति से दूर हो। अगली दीवाली न मना सको। चेतावनी को नजरंदाज करने की बजाय गौर किया करो।’

ललित ने परिवार पर मौत के लिए बनाया दबाव...

इस मामले में ललित भाटिया के पिटारे एक एक कर नई बातें सामने आ रही हैं। भाटिया परिवार के घर से बरामद नोट्स उस पूरी कहानी को बयां करते हैं कि आखिर कैसे और किस तरह से पूरा परिवार सामूहिक तौर पर मोक्ष से मिलन के लिए मौत के रास्ते पर आगे बढ़ रहा था। 11 पाइप,11एंगल और वटपूजा के बाद अब नई जानकारी सामने आई है। नोट्स में दर्ज एंट्री से पता चलता है कि ललित भाटिया अपने परिवार के सभी सदस्यों पर मौत को गले लगाने के लिए दबाव डाल रहा था।

परिवार की दूसरी आत्माएं भी भटकती थीं...

मिली जानकारी के मुताबिक संत नगर स्थित भाटिया परिवार के घर न केवल उसके पिता की आत्मा भटकती रहती थी। बल्कि परिवार की दूसरी आत्माएं भी भटकती थीं। रिपोर्ट में इस बात की जिक्र है कि भाटिया परिवार को आदेशों की नाफरमानी करने की सजा मिली है। पुलिस का मानना है कि रजिस्टर में ललित भाटिया एंट्री किया करता था। अपने एक नोट में वो लिखता है कि अगर मृतकों का अंतिम क्रियाकर्म सही ढंग से किया गया तो दूसरी आत्माएं घर को छोड़ देंगी और अगर ऐसा नहीं हुआ तो वो पिताजी की आत्मा के साथ घर में विचरण करती रहेंगी।

भविष्य की योजनाओं के लिए ये कहता था ललित...

नोट में ललित भाटिया अपने परिवार के दूसरे सदस्यों की इस बात के लिए आलोचना करता है कि आखिर उसके बताए गए रास्तों और तरीकों पर लोग संदेह क्यों करते हैं। आगे लिखता है कि विधि विधान में जो देरी हुई वो परिवार के लोगों के संदेह करने की वजह से हुई। इसका अर्थ ये है कि वो अपने पूरे परिवार का खात्मा और पहले किया करना चाहता था। इसके साथ ही वो परिवार से कहता है कि वो भविष्य की योजनाओं को कारगर बनाने के लिए धन संपदा की रक्षा करें।

घर की मरम्मत का काम इस वजह से रोका...

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ललित भाटिया दावा करता है कि उसके घर की मरम्मत का काम सिर्फ संदेह की वजह से रुक गया था। एक नोट में वो लिखता है कि जब तक पांच व्यक्ति पूरे नहीं होते बी+बी+एल+एल+पी+एन अपनी बैठक जारी रखेंगे। इसके बाद जब पांच लोग हो जाएं तो बी+बी+एल ये करेंगे, पी+एल छोड़ सकते हैं। ललित भाटिया कहता है कि भुप्पी, अपना भ्रम जारी रखो, जब कोई नई चीज हो तो उसे लिख लो। ये भ्रम हफ्ते में तीन दिन करना जरूरी है। पुलिस का कहना है कि बी का मतलब भावेश या बेबी, एल का मतलब ललित, पी का मतलब प्रियंका और एन का मतलब नारायणी देवी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Burari deaths: Post-mortem report confirms death by hanging but mystery remains unsolved
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: burari deaths, post-mortem report, confirms, death by hanging, mystery remains unsolved, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved