• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

70 लाख की लागत से बनकर तैयार वार्ड बना सफेद हाथी

White wagon made of ready wardrobe costing Rs 70 lakh in jhansi - Jhansi News in Hindi

झाँसी।जिला महिला अस्पताल में नवनिर्मित वार्ड इन दिनों सफेद हाथी साबित हो रहा है। 70 लाख रूपयें की भारी भरकम राशि से बनकर तैयार इस नये वार्ड को अभी तक अस्पताल प्रशासन को नहीं सौंपा गया है। जिस कारण अस्पताल में लगातार बढ़ती जा रही प्रसुताओं की संख्या पर काबू पाने में अस्पताल प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ती है।

जिला महिला अस्पताल में महिला मरीजों , प्रसुताओं की दिनोंदिन बढ़ती संख्या का मद्देनजर वर्ष 2013 में अस्पताल प्रशासन द्वारा वार्डों की कमी होने की शिकायत जिला मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय को की गई थी। तत्कालीन सीएमएस द्वारा इस समस्या को हल करने के लिये यहां और अधिक वार्ड बनाये जाने की मांग की गयी थी। जिस पर ध्यान देते हुये जिला चिकित्सा प्रशासन द्वारा महिला अस्पताल के पीछें की ओर खाली पड़ी भूमि पर 25 बेडों वाले वार्ड का निमार्ण कार्य कराया जाना स्वीकृत हुआ था। जिसके लिये शासन स्तर पर स्वीकृति मिलने के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय द्वारा 2014 अप्रैल माह मे टैण्डर मांगे गए थे। टैण्डर प्रक्रिया में इस निर्माण कार्य को अंजाम देने का ठेका सरकारी संस्था पेकपैड को मिला। जिसके बाद पेकपैड ने भी इस कार्य को एक जनप्रतिनिधि के चचेरे भाई को दिया। उनकी देखरेख में वार्ड बनकर तैयार हुआ। वर्ष 2016 में यह वार्ड बनकर तैयार हो गया। जिसके बाद कार्रवाई कार्यदायी संस्था से जिला महिला अस्पताल को हस्तांतरित करने की गई। जिसके तहत मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. प्रदीप कुमार अत्री ने नवनिर्मित वार्ड का निरीक्षण किया। अपने निरीक्षण में उन्होने पाया कि उक्त नए वार्ड में अस्पताल निर्माण के मानकों को नजर अंदाज किया गया है। जिसमें न तो सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखा गया था और न ही चिकित्सा व्यवस्था को। नवनिर्मित वार्ड का अधूरा काम किये वगैर ही तत्कालीन सरकार की हनक के चलते उक्त ठेकेदार ने अपनी रसूख से पूरा भुगतान भी करा लिया। लेकिन वार्ड आज तक प्रयोग न होने की स्थिति में पड़ा हुआ है। जिस उद्देश्य के तहत इस बड़ी बजट वाली योजना को जमीन पर उतारा गया वह अक्टूबर 2016 में पूर्ण होने के बाद भी आज तक सफेद हाथी साबित हो रही है।
जिला महिला अस्पताल में अभी 20 बैडों पर प्रसूताओं को भर्ती करने की व्यवस्था है। संख्या ज्यादा होने पर प्रसुताओं को अन्य विभागों के बेडों पर लिटाया जाता है। कभी कभी स्थिति ऐसी बन जाती है ,जिस कारण नसबन्दी वार्ड में भी महिलाओं को भेजना पड़ता है। यदि नवनिर्मित वार्ड अस्पताल को मिल जाएं तो इस पीड़ादायक स्थिति से छुटकारा मिल सकता है।
70 लाख की बड़ी लागत से अस्पताल परिसर में ही बनकर तैयार 25 बैड वालेे वार्ड में विद्युत, दमकल जैसी आवश्यक कमियां है। जिसके सुधरने के बाद ही महिला अस्पताल प्रशासन इसे अपने कब्जे में लेने का तैयार होगा।
इस मामले में जब जिला महिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. प्रदीप कुमार अत्री से जानकारी मांगी तो उनका कहना था कि नवनिर्मित वार्ड में जो भी कमियां है उन सभी को जिला मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय को अवगत कराया दिया गया है। सम्बंधित फर्म को छूटा कार्य करने के लिए पत्र जारी कर दिया गया है। जल्द ही काम पूरा होने पर अस्पताल की इस बड़ी समस्या से निजात मिलने की संभावना है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-White wagon made of ready wardrobe costing Rs 70 lakh in jhansi
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: white wagon, made of ready wardrobe, costing rs 70 lakh, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jhansi news, jhansi news in hindi, real time jhansi city news, real time news, jhansi news khas khabar, jhansi news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved