• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

गरीबों के हित में गंभीर होकर कार्य करें अधिकारी : आयोग अध्यक्ष

Officers should work seriously in the interest of the poor: Commission Chairman - Jaipur News in Hindi

जयपुर। राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नन्दकुमार सांई ने शनिवार को उदयपुर जिला परिषद सभागार में आयोजित संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में कहा कि सरकार द्वारा जरूरतमंद एवं गरीब तबके के कल्याण व उत्थान के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं। इन योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के साथ ही उपलब्ध मशीनरी का उपयोग करते हुए अधिकारियों को उनके हित में गंभीर होकर कार्य करने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर आयोग सदस्य हर्षदभाई चुन्नीलाल वसावा, हरिकृष्ण डामोर व माया चिंतामन इवनाते तथा आयोग के संयुक्त सचिव एस.के.राठो ने उदयपुर प्रवास के तहत किये गये उदयपुर-डूंगरपुर दौरे के दौरान आमजन से प्राप्त परिवेदनाओं के संबंध में विभागवार समीक्षा कर इनके त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए।

बैठक में संभागीय आयुक्त विकास सीतारामजी भाले, पुलिस महानिरीक्षक बिनिता ठाकुर, उदयपुर जिला कलक्टर श्रीमती आनन्दी, बांसवाड़ा जिला कलक्टर आशीष गुप्ता, चित्तौड़गढ़ जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार, डूंगरपुर जिला कलक्टर चेतन देवड़ा, प्रतापगढ़ जिला कलक्टर श्यामसिंह राजपुरोहित, उदयपुर पुलिस अधीक्षक कैलाश चन्द्र विश्नोई, डूंगरपुर एसपी गौरव यादव, जिला परिषद सीईओ कमर चौधरी, टीएडी के अतिरिक्त आयुक्त रामजीवन मीणा व अंजलि राजोरिया, अतिरिक्त संभागीय आयुक्त एल.एन.मंत्री, अतिरिक्त जिला कलक्टर संजय कुमार व नरेश बुनकर सहित संभाग के विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। आरंभ में आयोग अध्यक्ष, सदस्य व संयुक्त सचिव का प्रशासनिक व विभागीय अधिकारियों ने पगड़ी पहना, उपरणा ओढ़ाकर व पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया।

आधार कार्ड निर्माण

बैठक में आयोग के संयुक्त सचिव राठो ने जनजाति क्षेत्र में 78-80 प्रतिशत जनजातिजनों के आधार कार्ड ही होने के तथ्य को उजागर किया व इस संबंध में जानकारी चाही। इस पर उदयपुर कलक्टर आनंदी ने बताया कि जिले में आधार मशीनों की कमी के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। उन्होंने मशीनों की कमी को पूरा करने के लिए यूडीएआई दिल्ली से किए गए सम्पर्क व प्रयासों की जानकारी देते हुए कहा कि जिले से आधार कार्ड मशीनों के 148 आवेदन लंबित हैं। उन्होंने हर पंचायत पर एक मशीन की आवश्यकता भी जताई। इस पर आयोग अध्यक्ष सांई ने तेलंगाना की भांति राजस्थान व अन्य प्रदेशों में भी ऎसी स्थिति की संभावना जताई व इसके समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ आयोग की बैठक करने का निर्णय लिया।

वनाधिकार प्रकरण निस्तारण

बैठक में आयोग द्वारा जनजाति उपयोजना क्षेत्र में वनाधिकार दिए जाने की समीक्षा की गई। उन्होंने वनाधिकार में सामुदायिक व व्यक्तिगत आवेदन तथा उनके निरस्त होने के प्रतिशत के बारे में जिलावार जानकारी ली। आयोग अध्यक्ष ने इस मामले में समस्त जिला कलक्टर्स को निर्देश दिए कि वे ऎसे प्रकरणों की गंभीरता से मॉनिटरिंग करें तथा पात्र लोगों को वनाधिकार प्रदान करें। इस दौरान उन्होंने वनाधिकार प्रदान किये जाने के मामलों में फिल्ड में आ रही परेशानियों के बारे में भी पूछा तथा इसके समाधान के निर्देश दिए।

नरेगा श्रमिकों को रसीद व प्रमाण पत्र दें


आयोग अध्यक्ष सांई ने नरेगा में 100 दिन कार्य करने वाले श्रमिकों को श्रमिक कार्ड निर्माण के लिए अपेक्षित प्रमाण पत्र नहीं दिए जाने की परिवेदना बताई और इसे जारी करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार उन्होंने नरेगा में कार्य का आवेदन करने वालों को रसीद देने की व्यवस्था के लिए भी कलक्टर्स को कहा। उदयपुर जिला परिषद सीईओ कमर चौधरी ने जिले में प्रपत्र 6 की प्राप्ति और रसीद के लिए की गई व्यवस्था को बताया। आयोग सदस्यों ने इस दौरान श्रमिक कार्ड निर्माण की प्रगति की जानकारी ली।

कुएं गहरे कराने की योजना शुरू हो

बैठक में आयोग के संयुक्त सचिव ने क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान जनजाति क्षेत्र में सिंचाई सुविधाओं के लिए आ राही समस्याओं के बारे में जानकारी ली। डूंगरपुर कलक्टर देवड़ा ने कुएं गहरे कराने की योजना को पुनः प्रारंभ करने की आवश्यकता जताई। आयोग सदस्यों ने कृषि कनेक्शनों के लम्बित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए इनको निस्तारित करने के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा

आयोग अध्यक्ष ने संभाग में चिकित्सा सेवाओं की समीक्षा करते हुए चिकित्साधिकारियों के रिक्त पदों की जानकारी ली और सुदूर क्षेत्रों में इसके लिए बेहतर व्यवस्थाएं कराने के निर्देश दिए। उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं को सुचारू बनाने स्थानीय स्तर पर आशा सहयोगिनियों की भर्ती करने को भी कहा।

अधिकाधिक प्रयास जरूरी

आयोग अध्यक्ष ने भ्रमण के दौरान क्षेत्र में बिजली व शिक्षा के क्षेत्र मंई प्रगति को संतोषप्रद बताया और कहा कि इस दिशा में अधिकाधिक प्रयास किए जाने चाहिए। इस दौरान आयोग सदस्य डामोर ने विद्यालयों एवं छात्रावासों में कमियों के बारे में बताया और विभागीय अधिकारियों को सतर्क रहकर मॉनिटरिंग करने की आवश्यकता जताई।

पुलिस तंत्र सुदृढ बनें


आयोग अध्यक्ष एवं सदस्यों ने भ्रमण के दौरान मिली शिकायतों के आधार पर पुलिस तंत्र को सुदृढ़ बनाने के निर्देश दिए। आयोग अध्यक्ष ने कहा कि प्रत्येक थाना स्तर पर प्राथमिकी रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही संबंधित प्रकरण पर शीघ्र कार्यवाही कर आमजन को न्याय दिलाना पुलिस की प्राथमिकता है।

15 दिनों में आयोग को रिपोर्ट प्रस्तुत करें

आयोग अध्यक्ष ने जिलेवार विभागीय कार्यों की समीक्षा करते हुए विभिन्न जिलों से प्राप्त परिवेदनाओं की फाइलें भी संबंधित जिला कलक्टर को सुपुर्द की और प्राप्त परिवेदनाओं एवं प्रकरणों के संबध में आवश्यक कार्यवाही करते हुए 15 दिन में इसकी रिपोर्ट आयोग को प्रस्तुत करने को कहा।
बैंक अधिकारियों के साथ की बैठक

संभागीय बैठक उपरांत आयोग के अध्यक्ष व सदस्यों ने बैंक अधिकारियों के साथ बैठक की तथा वित्तीय समावेशन सहित जनजाति कल्याण से संबंधित अन्य विषयों पर विस्तार से चर्चा कर निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Officers should work seriously in the interest of the poor: Commission Chairman
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: national scheduled tribes commission, work for the benefit of the poor, implement welfare schemes, jaipur news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved