• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

स्वैच्छिक रक्तदाता , एनजीओ और सामान्य जन रक्तदान के लिए आगे आए-डॉ. हर्ष वर्धन

Voluntary blood donors, NGOs and general public came forward for blood donation - - Delhi News in Hindi

-नीति गोपेंद्र भट्ट-

नई दिल्ली
। केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने स्वैच्छिक और गैर सरकारी संगठन और लोगों से अपील की है कि वे देश में जरूरतमंद और गंभीर रोगों से पीड़ित लोगों की मांग को पूरा करने के लिए और पर्याप्त मात्रा में रक्त का स्टॉक बनाए रखने के लिए स्वैच्छिक रक्तदान के लिए आगे आए।

डॉ. हर्ष वर्धन ने आज नई दिल्ली में इंडियन रेड क्रास सोसायटी के भवन में आयोजित रक्तदान शिविर का शुभारंभ करते हुए कहा कि रक्तदान से लोगों की जान बचती है इसलिए यह जरूरी है कि सामान्य जन में इसके लिए जागरूकता को बढ़ाया जाए।

उन्होंने बताया कि मुझे व्यक्तिगत रूप से थैलेसेमिया के रोगियों, ट्वीटर और अन्य सामाजिक मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से यह शिकायत मिलती रही है कि गंभीर बीमारियों से ग्रस्त रोगियों को नियमित रूप से रक्त की आवश्यकता होती है। उनकी आवश्यकता पूरी करने के लिए ब्लड बैंकों में पर्याप्त मात्रा में रक्त की उपलब्धता बनी रहनी चाहिए।

डॉ. हर्ष वर्धन ने इंडियन रेड क्रास सोसायटी के स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हुए कहा कि कोविड-19 की विकट परिस्थितियों में सोसायटी ने अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों को रक्त की जरूरत की पूर्ति के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों को पत्र लिखकर और विडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आग्रह किया गया कि रक्त की कमी के कारण किसी भी रोगी को रक्त से वंचित नहीं रहना पड़े। इसका विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। कोविड-19 के दौरान रक्त की निर्बाध आपूर्ति बनाए रखने के लिए भारत सरकार ने इंडियन रेड क्रास सोसायटी के अधिकारियों के साथ बैठक कर उनके 30 हजार कार्यकर्ताओं और वाहनों के लिए विशेष पास जारी करवाए। साथ ही स्वैच्छिक रक्तदाताओं को उनके घरों से लाने और वापस छोड़ने के लिए भी वाहनों की व्यवस्था करवाई गई।

केन्द्रीय मंत्री ने स्वैच्छिक रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि अपना खून देकरदूसरों की जान बचाना मानव जाति की सबसे बड़ी सेवा है।जीवन दान का आधार बनता है रक्तदान। उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ व्यक्ति 65 वर्ष की आयु तक प्रत्येक 3 महीने में एक वर्ष में चार बार रक्तदान कर सकता है। रक्त दान से मानव शरीर को कई लाभ होते हैं। रक्तदान दिल के दौरे को रोकता है, ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है, रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर नीचे करता है और मोटापे को भी घटाता है। इस प्रकार रक्तदान मानव सेवा के साथ स्वयं के स्वास्थ्य की सुरक्षा भी है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Voluntary blood donors, NGOs and general public came forward for blood donation -
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: coronavirus, blood donation, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved