बिहार : अब बोधगया के बौद्ध मठ में 15 बाल लामाओं का यौन शोषण

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 31 अगस्त 2018, 10:09 AM (IST)

नई दिल्ली। बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि बिहार में एक और यौन शोषण का मामला सामने आया है। बिहार की विश्व प्रसिद्ध धर्मनगरी बोधगया से शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। बोधगया में एक मेडिटेशन सेंटर के संचालक बौद्ध भिक्षु पर नाबालिग बच्चों का यौन उत्पीडऩ करने का आरोप है। खबरों के मुताबिक,
गया जिले के अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध धर्म स्थल बोधगया स्थित एक बौद्ध मठ में असम के 15 बाल लामाओं का शारीरिक और यौन शोषण का आरोप है।

पुलिस के मुताबिक, बोधगया थाना क्षेत्र के मस्तीपुर स्थित प्रजना ज्योति बुद्धिस्ट नोविस स्कूल एंड मेडिटेशन सेंटर के बच्चों ने पढ़ाने के नाम पर भिक्षु भंते सुजाय संघप्रिय पर दुराचार, अनैतिक कार्य, मारपीट और भोजन नहीं दिए जाने का आरोप लगाया है।

भंते संघ प्रिय के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। शारीरिक और यौन शोषण करने के आरोपी भंते संघ प्रिय सुजॉय को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा दिया गया। पुलिस ने एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है। पीडि़त बच्चों की मेडिकल जांच किए जाने के साथ न्यायिक दंडाधिकारी के समक्ष उनका बयान रिकॉर्ड किए जाने के बाद उन्हें अपने परिजनों के साथ घर जाने की इजाजत दे दी गई है।

ऐसे हुआ खुलासा...

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

ऐसे हुआ खुलासा...
यहां के संचालक भन्ते सुजॉय उर्फ संघप्रिय भन्ते के द्वारा संस्था में पढऩे के लिए आए बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप लगा है। बच्चों ने इसकी सूचना जब अपने परिजनों को दी तब जाकर पूरे मामले का खुलासा हुआ है।

सभी 15 बच्चों को संस्था से बाहर निकाला...

ये भी पढ़ें - अजब- गजबः बंद आंखों से केवल सूंघकर देख लेते हैं ये बच्चे

सभी 15 बच्चों को संस्था से बाहर निकाला...
सुत्रों के मुताबिक, बच्चों की शिकायत पर परिजन बोधगया पहुंचे। यहां आकर जब उन्होंने मामले की जानकारी लेनी चाही तो आरोपी भिक्षु के द्वारा सभी 15 पीडि़त बच्चों को संस्था से बाहर निकाल दिया गया। आरोप है कि संस्था से निकालते वक्त बच्चों को कपड़े भी नहीं दिए गए।

किसी प्रकार बच्चों के परिजन सभी को लेकर गया के विष्णुपद थाना क्षेत्र के असम भवन में पहुंचे। इसके बाद घटना की शिकायत पुलिस के आलाधिकारियों से की गई।

पुलिस कर रही मामले की जांच...

ये भी पढ़ें - यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’

पुलिस कर रही मामले की जांच...
मामले की जानकारी के बाद सिटी डीएसपी के नेतृत्व में विष्णुपद थाना की पुलिस असम भवन पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गई।

इधर दूसरी ओर मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई करते हुए बोधगया थाना की पुलिस ने आरोपी भन्ते को गिरफ्तार कर लिया। पीडि़त बच्चों ने आरोप लगाया है कि आरोपी भन्ते उनसे अक्सर गंदी हरकतें किया करते थे।

ये भी पढ़ें - प्यार और शादी के लिए तरस रही है यहां लडकियां!