मोसुल युद्ध: इराकी फौज ने एयरपोर्ट पर धावा बोला

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 23 फ़रवरी 2017, 2:36 PM (IST)

मोसुल। अमेरिका समर्थित इराकी गठबंधन सेना इस्लामिक स्टेट (आईएस) के कब्जे वाले पश्चिमी मोसुल पर तेजी से अपना शिकंजा कस रही है। इराकी फौज ने शहर के मुख्य हवाईअड्डे पर धावा बोल दिया है। गुरुवार को की गई इस कार्रवाई में हवाई अड्डे के अलावा पास ही में स्थित सैन्य अड्डे को भी निशाना बनाया जा रहा है। यह जानकारी स्टेट टेलिविजन ने दी है।
स्टेट टीवी पर प्रसारित बयान के मुताबिक, ‘त्वरित कार्रवाई बल, प्रांतीय पुलिस और आतंकवाद-निरोधी सैन्य बलों ने मिलकर मोसुल हवाईअड्डे पर हमला कर दिया है।’ गठबंधन सेना पिछले महीने मोसुल के पूर्वी हिस्से से आईएस को बाहर करने और इस हिस्से पर अपना अधिकार जमाने में कामयाब हुई थी। अब इराकी सेना मोसुल एयरपोर्ट और इसके नजदीक बने अल-गाजलानी सैन्य अड्डे पर अपना नियंत्रण स्थापित करने की कोशिश कर रही है। ये दोनों जगहें मोसुल के सुदूर दक्षिणी हिस्से में हैं। इस पर अधिकार हो जाने के बाद गठबंधन सेना के लिए पश्चिमी हिस्से पर आक्रमण करना अपेक्षाकृत आसान हो जाएगा। पश्चिमी मोसुल पर कब्जे की जंग में इसका इस्तेमाल लॉन्चपैड की तरह किया जा सकेगा।

[# गजब का टैलेंट, पैरों से पत्थर तराश बना देते हैं मूर्तियां]

[# अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

मोसुल शहर का जो पूर्वी भाग गठबंधन सेना के पास है, उसे आईएस लड़ाके निर्जन छोडक़र भाग गए थे। पश्चिमी मोसुल आईएस का गढ़ है। सबसे अहम लड़ाई इसी हिस्से पर कब्जे को लेकर होनी है। पश्चिमी मोसुल में करीब 5 लाख आम नागरिकों के फंसे होने का अनुमान है। आशंका है कि आतंकवादी इन लोगों को अपनी ढाल की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा, यह इलाका सघन आबादी क्षेत्र भी है। इतनी बड़ी तादाद में आम नागरिकों की मौजूदगी और संकरी सडक़ों के कारण गठबंधन सेना को यहां अपने सैन्य अभियान में खासी चुनौतियां झेलनी होंगी।

[# यह है अनोखा कोर्ट, यहां नहीं मिलती तारीख पे तारीख]