• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

ओलम्पिक को देखते हुए, बत्रा की कोशिश मान्यता विवाद खत्म करने की

With eye on Olympics, IOA chief Batra keen to sort recognition woes - Sports News in Hindi

नई दिल्ली । भारतीय ओलम्पिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरेंद्र बत्रा ने उम्मीद जताई है कि राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) की मान्यताओं से संबंधित मुद्दे खेल मंत्रालय के साथ मिलकर अगले एक-दो सप्ताह में सुलझा लिए जाएंगे। बत्रा ने एक बयान में कहा, "मैं खेल मंत्रालय में संबंधित लोगों के संपर्क मे हूं।ओलम्पिक-2021 को ध्यान में रखते हुए, और सब कुछ सही रहा तो, मुझे उम्मीद है कि यह सभी मुद्दे अगले दो-तीन सप्ताह में सुलक्षा लिए जाएंगे।"

खेल मंत्रालय ने गुरुवार को दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश पर 54 एनएसएफ की मान्यता को रद्द कर दिया है।

खेल मंत्रालय के उप सचिव एसपीएस तोमर ने भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के महानिदेशक संदीप प्रधान को पत्र में लिखा, "मैं 2-06-2020 को मंत्रालय द्वारा जारी किए गए पत्र का जिक्र करूंगा जिसमें राष्ट्रीय खेल महासंघ को 2020 तक के लिए मान्यता दी गई थी। मैं यह कहना चाहता हूं कि दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा 24.06.2020 को दिए गए आदेश के मुताबिक, मंत्रालय द्वारा 2.06.2020 को दिया गया आदेश जिसमें 54 एनएसएफ को मान्यता दी गई थी, वो वापस लिया जाता है।"

उच्च न्यायालय ने 11 मई को मंत्रालय को आदेश दिया था कि वह 54 महासंघों को दी गई अस्थायी मान्यता को वापस ले। अदालत ने कहा है कि मंत्रालय ने इस साल सात फरवरी को दिए गए आदेश को पालन नहीं किया।

उस आदेश के मुताबिक, मंत्रालय और आईओए को एनएसएफ से संबंधित कोई भी फैसला लेने के से पहले अदालत को सूचित करना था। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-With eye on Olympics, IOA chief Batra keen to sort recognition woes
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: olympics, ioa chief batra, narinder batra, sports news in hindi, latest sports news in hindi, sports news
Khaskhabar.com Facebook Page:

खेल

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved