देश की ये टाॅप पाॅपुलर कारें, सेफ्टी में हैं फिसड्डी

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 31 अगस्त 2017, 3:10 PM (IST)

एक कहावत आपने जरूर सुनी होगी, हर चमकने वाली चीज सोना नहीं होती। हमारे आज के आर्टिकल पर यह बात बिलकुल फिट बैठती है। आज हम बात करने वाले हैं कुछ ऐसी कारों की जो देश में पाॅपुलर तो हैं लेकिन सुरक्षा के नजरिए से बिलकुल भी सुरक्षित नहीं है। यहां तक की एनसीएपी क्रेश टेस्ट में इन कारों को जीरो स्टार रैंक दी गई है। इनमें से कई कारों में एयरबैग लगा था लेकिन उसके बाद भी रिजल्ट एक जैसा ही था। आइए, बात करते हैं कुछ ऐसी ही टाॅप 5 कारों के बारे में ...[# अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

5. शेवरले बीट

हालही में हुए लैटिन एनसीएपी कार क्रेश टेस्ट (सेफ्टी टेस्ट) में इस मोस्ट पाॅपुलर हैचबैक कार को जीरो स्टार रैंकिंग मिली है। शेवरले बीट 2 वेरिएंट में आती है लेकिन दोनों में ही एयरबैग नहीं दिया गया है। इस कार को 0 स्टार मिले हैं। वहीं चेस्ट व पैसेन्जर नी प्रोटेक्शन भी काफी कमजोर बताया गया है। इसके बाद भी यह कार कंपनी की सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक है। बीट में 1.2 लीटर डीज़ल और 1.0 लीटर पेट्रोल इंजन लगा है। दाम 4.38 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) से शुरू है।

4. शेवरले स्पार्क

एंट्री लैवल की यह कार देश में काफी पाॅपुलर है, जो बीट से एक पायदान नीचे है। एक समान सेफ्टी टेस्ट में जो बीट का रिजल्ट है, वहीं स्पार्क का है। जीरो रैंकिंग के साथ यह कार जीरो प्रोटेक्शन के साथ है। स्पार्क 3 वेरिएंट में उपलब्ध है लेकिन एयरबैग किसी में भी नहीं। स्पार्क में 1.0 लीटर का पेट्रोल इंजन लगा है जो 61PS की पावर और 86Nm का टाॅर्क जनरेट करता है। दाम 3.64 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) से शुरू है।

3. होंडा मोबिलियो

होंडा की एमपीवी मोबिलियो इस लिस्ट में तीसरे पायदान पर है। इस कार को भी सेफ्टी टेस्ट में 0 रैंकिंग मिली है। स्टैण्डर्ड माॅडल टेस्ट में पूरी तरह फेल रहा है और उसे 0 स्टार मिले हैं। ड्यूल एयरबैग वाले माॅडल में अडल्ट प्रोक्टशन केटेगिरी में इस कार को 3 स्टार मिले हैं जो सेफ्टी के लिहाज से काफी कम है। यह एमपीवी पेट्रोल व डीज़ल दोनों इंजन विकल्प में उपलब्ध है जिसमें 1.5 लीटर इंजन लगा है। दाम 8.67 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) से शुरू है।

2. रेनो क्विड

देश की सबसे पाॅपुलर कार रेनो क्विड का नाम देखकर कई पाठकों का चौकना सही है, लेकिन यह सच है। रेनो क्विड का स्टैण्डर्ड वेरिएंट बिना एयरबैग के आता है लेकिन ग्लोबल एनसीएपी टेस्ट में इसे ड्राइवर साइड एयरबैग के साथ टेस्ट किया गया है। इस टेस्ट में कार को वन स्टार रैंक मिली है। लैटिन एनसीएपी सेफ्टी टेस्ट में क्विड को अडल्ट प्रोडक्टशन केटेगिरी में 0, चाइल्ड प्रोटेक्शन में 2 स्टार और ड्राइवर सीट प्रोटेक्शन में 1 स्टार मिला है। रेनो क्विड में 0.8 और 1.0 लीटर पेट्रोल इंजन लगा है। शुरूआती कीमत 2.65 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) है।

1. मारूति आॅल्टो 800

अब आते हैं आखिरी पायदान पर जहां देश की सबसे अनसेफ कार की बात होगी। इस पायदान पर और कोई नहीं बल्कि देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार मारूति सुजु़की आॅल्टो 800 है। कुछ महीनों पहले हुए सेफ्टी टेस्ट में इस कार को 0 स्टार रैंकिंग मिली थी। इस कार के बारे में आपको बात दें कि आॅल्टो 800 कई सालों से देश की नम्बर 1 बिकने वाली कार है जिसकी न पाॅपुलर्टी में कमी आई है और न ही बिक्री में। मारूति 800 और आॅल्टो को डिस्कंटीन्यू करने के बाद आॅल्टो 800 को इंडियन मार्केट में उतारा गया था। इस कार में 796cc का पेट्रोल इंजन लगा है। कीमत 2.82 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) है।