विश्व कप क्वालीफायर : अर्जेंटीना का सामना उरुग्वे से

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 01 सितम्बर 2016, 7:00 PM (IST)

ब्यूनस आयर्स। संन्यास के बाद अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में वापसी कर रहे स्टार फुटबॉल खिलाड़ी लियोनेल मेसी गुरुवार को उरुग्वे के खिलाफ विश्व कप क्वालीफायर में एक बार फिर अर्जेंटीना की कमान संभालेंगे। यह मैच अर्जेंटीना के नए कोच इडगाडरे बाउजा का मेसी की टीम के साथ पहला मैच होगा। मैच स्थानीय समयानुसार रात 8.30 बजे मेनडोजा के अर्जेंटीना स्टेडियम में खेला जाएगा।

कोपा अमेरिका-2016 के फाइनल में चिली के हाथों मिली हार के बाद मेसी ने अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास की घोषणा कर दी थी, लेकिन तमाम लोगों के आग्राह के बाद उन्होंने अगस्त में वापसी का ऐलान किया था। मेसी की टीम के नए कोच बाउजा से बातचीत को उनकी वापसी का सबसे बड़ा कारण माना जा रहा है। बाउजा को जैसे ही टीम का कोच बनाया गया था वह तुरंत ही मेसी से बात करने के लिए यूरोप के लिए रवाना हो गए थे।

गोनजालो हिग्युएन की जगह फॉरवर्ड खिलाड़ी लुकास प्राटो को टीम में जगह देना शुरू से ही चर्चा का विषय बना हुआ है। वहीं, दूसरी तरफ उरुग्वे इस मैच में अपने परिचित चेहरों के साथ ही उतरेगी। हालांकि टीम ने दो चौकाने वाले बदलाव किए हैं। माथियास कोरुजो और मिडफील्डर इगिडियो रियोस को टीम में शामिल किया गया है। अर्जेंटीना की टीम इस समय दक्षिण अमेरिका विश्व कप क्वालीफायर में 11 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है।

लीवरपूल छोड़कर नीस पहुंचे बालोटेली


पेरिस। इटली के फुटबॉल खिलाड़ी मारियो बालोटेली ने इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) के क्लब लीवरपूल को छोड़कर नीस का दामन थाम लिया है। फ्रांस के लीग-1 क्लब नीस ने इस बात की पुष्टि की है। क्लब ने बुधवार को एक बयान में कहा है कि यह हो चुका है। बालोटेली अब नीस के आधिकारिक खिलाड़ी बन गए हैं। बयान में कहा गया है कि मारियो बालोटेली गुरुवार से हमारे साथ अभ्यास करेंगे और शुक्रवार को आधिकारिक तौर पर प्रेस से मुखातिब होंगे।

नीस के अध्यक्ष ज्यां पिएरे रिवेरे ने कहा कि हम मारियो का स्वागत कर खुश हैं। मुझे उम्मीद है कि नीस के पारिवारिक वातावरण में उन्हें खेल का आनंद आएगा। हालांकि इस करार को लेकर अभी तक किसी तरह की वित्तीय जानकारी नहीं मिली है, लेकिन ब्रिटिश मीडिया के अनुसार बालोटेली लीवरपूल से यहां मुफ्त स्थानांतरण पर आए हैं। ऐसी खबरें है कि इंग्लिश क्लब करार की रकम देने से बचने की कोशिश कर रहा है।

(IANS)