केटीआर ने एक बार फिर नड्डा पर साधा निशाना, कटाक्ष करते हुए बताया राजा हरिश्चंद्र का रिश्तेदार

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 07 मई 2022, 6:34 PM (IST)

हैदराबाद। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकारी अध्यक्ष के. टी. रामाराव ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पर हमले जारी रखे। टीआरएस नेता ने शनिवार को नड्डा को 'राजा हरिश्चंद्र का पहला चचेरा भाई' कहते हुए कटाक्ष किया।

नड्डा के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के बारे में टीआरएस नेता कृष्णक माने के ट्वीट पर रामा राव ने टिप्पणी करते हुए लिखा, "यह कैसे संभव है! वह तो राजा हरिश्चंद्र के पहले चचेरे भाई हैं?"

कृष्णक ने ट्वीट किया, "स्वास्थ्य मंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान नड्डा जी पर खुद 7000 करोड़ के बड़े घोटाले का आरोप है और इसलिए उन्हें कैबिनेट मंत्री के पद से हटा दिया गया।"

रामा राव, जिन्हें केटीआर के नाम से भी जाना जाता है, ने नड्डा के कार्यकाल पर सवाल उठाते हुए समाचार पत्रों की कतरनें भी पोस्ट कीं।

केटीआर, जो अपने पिता के चंद्रशेखर राव की अध्यक्षता में कैबिनेट में उद्योग, सूचना प्रौद्योगिकी, नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री हैं, ने ट्वीट किया, "हेलो नड्डा जी, आपके अपने भाजपा विधायक कहते हैं कि उन्हें कर्नाटक का सीएम बनने के लिए 2,500 करोड़ रुपये की रिश्वत देने के लिए कहा गया था। ठेकेदारों का कहना है कि उन्हें 40 प्रतिशत कमीशन देना होगा और यहां तक कि हिंदू मठ के संतों का कहना है कि उन्हें 30 प्रतिशत कमीशन देना होगा। कुछ कहना है? ईडी, आईटी, सीबीआई के लिए कोई आदेश?"

भाजपा प्रमुख द्वारा राज्य सरकार पर हमला करने के बाद टीआरएस नेता ने लगातार दूसरे दिन नड्डा पर निशाना साधा।

5 मई को महबूबनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए, नड्डा ने टीआरएस सरकार को सबसे भ्रष्ट सरकार में से एक बताया और आरोप लगाया कि कालेश्वरम लिफ्ट सिंचाई परियोजना मुख्यमंत्री केसीआर के लिए एक 'एटीएम' और 'दूध देने वाली गाय' बन गई, जिन्होंने परियोजना की लागत को 1.2 लाख करोड़ रुपये तक बढ़ा दिया, लेकिन एक इंच भी जमीन सिंचित नहीं हुई।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि मिशन काकतीय, मिशन भगीरथ और हरिथारम योजनाओं में भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा, केसीआर सरकार भू-माफिया की तरह काम कर रही है।

शुक्रवार को भाजपा नेता पर पलटवार करते हुए केटीआर ने कहा था कि वह केंद्र की भाजपा नीत सरकार और उसके नेताओं के दुस्साहस से चकित हैं। उन्होंने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को गैर-निष्पादित (प्रदर्शन नहीं करने वाली) गठबंधन (एनपीए) के रूप में ब्रांडेड किया।

केटीआर ने ट्वीट किया, "एनपीए सरकार और उसके सरदारों के दुस्साहस से चकित हूं, जिन्होंने अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है, जिसने हमें 45 वर्षों में सबसे अधिक बेरोजगारी, 30 वर्षों में सबसे अधिक महंगाई और दुनिया में सबसे अधिक एलपीजी दर की ओर अग्रसर किया है।"

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे