इन देसी नुस्खों के जरिये फिर पा सकते हैं मर्दाना ताकत

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 27 जनवरी 2022, 1:31 PM (IST)

किसी भी रिश्ते में शारीरिक सम्बन्धों का महत्वपूर्ण स्थान होता है जो रिश्ते में नजदीकियाँ लाता है। अंतरंग सम्बन्धों तकलीफ आने से रिश्ते में बिगाड़ होना शुरू हो जाता है। वर्तमान समय की तनाव भरी जिंदगी में कई लोगों को सेक्स से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अपनी इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए वे बाजार में उपलब्ध कई प्रकार की दवाईयों का सेवन करते हैं लेकिन उन्हें इन दवाईयों से कुछ फायदा नहीं होता है। यदि आप भी इस तरह की किसी समस्या से ग्रस्त हैं तो आपको उन चीजों का उपयोग करना चाहिए जिन्हें कभी राजा-महाराजा अपनाए करते थे। ये देसी नुस्खें हैं जिन्हें आप आराम से अपने घर पर ही तैयार कर सकते हैं। आइए डालते हैं एक नजर उन्हीं आयुर्वेदिक नुस्खों पर जो आपकी इस समस्या को काफी हद तक दूर कर सकते हैं—
अश्वगंधा
उपयोग - कमजोरी, थकान, लो स्पर्म काउंट, इम्युनिटी के लिए
नुस्खा - सोने से पहले गुनगुने दूध के साथ एक चम्मच अश्वगंधा का पाउडर लें।
केसर
उपयोग - इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, इन्फर्टिलिटी, स्पर्म काउंट, कमजोरी, थकान के लिए
नुस्खा - गुनगुने दूध में चुटकी भर केसर डालकर रात को सोने से पहले पीएं।
आंवला
उपयोग - यूरिन प्रॉब्लम, थकान, कमजोरी, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, स्पर्म काउंट के लिए।
नुस्खा - एक चम्मच आंवला पाउडर समान मात्रा में मिश्री मिलाकर सोने से पहले लें। फिर गुनगुना दूध पी लें।
इमली के बीज
उपयोग - थकान, एनर्जी की कमी, स्पर्म काउंट, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लिए।
नुस्खा - इमली के बीजों को भूनकर उसका पाउडर बना लें। दो चम्मच सुबह शाम मिश्री और गुनगुने दूध के साथ लें।
शिलाजीत
उपयोग - कमजोरी, एनर्जी की कमी, इम्युनिटी, बुढ़ापा, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन वगैरह के लिए
नुस्खा - चावल के दाने के बराबर शिलाजीत या इसकी चुटकी भर भस्म को एक चम्मच गाय के घी या शहद के साथ लें।
सफेद मूसली
उपयोग - इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, इन्फर्टिलिटी, स्पर्म की कमी, कमजोरी, इम्पोटेंसी, इम्युनिटी के लिए।
नुस्खा - एक चम्मच मूसली पाउडर मिश्री और दूध के साथ रोज सुबह-शाम लें।
शतावर
उपयोग - इन्फर्टिलिटी, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, थकान, कमजोरी, लो स्पर्म काउंट के लिए
नुस्खा - एक-एक चम्मच मिश्री और गाय के घी के साथ आधा चम्मच शतावर का पाउडर लें। ऊपर से दूध पी लें।
पुनर्नवा
उपयोग - थकान, एंटी एजिंग, कमजोरी, इरेक्टल, डिस्फंक्शन, इम्युनिटी के लिए।
नुस्खा - आधा चम्मच पुनर्नवा का पाउडर एक चम्मच शहद के साथ सुबह-शाम लें।

दी गई जानकारी आयुर्वेद के नुस्खों पर आधारित है। यदि आप इस प्रकार की किसी समस्या से ग्रसित हैं तो आयुर्वेद चिकित्सक से परामर्श अवश्य करें।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे