सिनेमाघरों में नहीं अपितु टीवी चैनलों पर आएगा अला वैकुंठपुरमुलो का हिन्दी वर्जन, अल्लू अरविंद हुए सफल

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 22 जनवरी 2022, 11:33 AM (IST)

पिछले एक सप्ताह से लगातार चर्चाओं में रह रहे अल्लू अर्जुन की फिल्म अला वैकुंठपुरमुलो के हिन्दी डब वर्जन को अब सिनेमाघरों में प्रदर्शित नहीं किया जाएगा। पहले इस फिल्म के हिन्दी वर्जन को मनीष शाह 26 जनवरी को सिनेमाघरों में प्रदर्शित करने जा रहे थे लेकिन शुक्रवार को मूल फिल्म के निर्माताओं के साथ ही हिन्दी रीमेक के निर्माताओं ने मनीष गिरीश शाह से लम्बी बातचीत की, जिसके परिणामस्वरूप मनीष शाह ने इस फिल्म को सिनेमाघरों में प्रदर्शित न करने का फैसला लिया। गौरतलब है कि अला वैकुंठपुरमुलो का हिन्दी रीमेक शहजादा के नाम से बन रहा है जिसमें कार्तिक आर्यन मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। इस हिन्दी रीमेक का निर्माण भी मूल फिल्म के निर्माता अल्लू अरविंद ही कर रहे हैं, जो अल्लू अर्जुन के पिता हैं। अब मनीष शाह अला वैकुंठपुरमुलो का हिंदी वर्जन 26 जनवरी को थिएटर में रिलीज नहीं कर रहे हैं। इस फैसले के बाद शहजादा के मेकर्स ने मनीष शाह का शुक्रिया अदा किया है।

गौरतलब है कि अला वैकुंठपुरमुलू की हिंदी रीमेक शहजादा है जिसमें कार्तिक आर्यन मेन लीड हैं। मनीष शाह से कार्तिक और अल्लू अरविंद ने चर्चा की और उनसे अला वैकुंठपुरमुलू की रिलीज रोकने की गुजारिश की। इस पर शुक्रवार को शहजादा के प्रोड्यूसर अल्लू अरविंद के साथ मनीष शाह की लंबी बैठक चली। मनीष शाह ने कहा- प्रोड्यूसरों से हमारी बात चल रही है। हम देख रहें हैं कि क्या बेस्ट पॉसिबल वेआउट होगा?
6 फरवरी को सेटेलाइट रिलीज होगी
ख्यात हिन्दी दैनिक को दिए अपने साक्षात्कार में मनीष ने कहा, इसकी बजाय हम इसे मेरे सैटेलाइट चैनल पर 6 फरवरी को ब्रॉडकास्ट करेंगे। दरअसल अला वैकुंठपुरमुलू की हिंदी रीमेक ‘शहजादा’ भूषण कुमार,अल्लू अरविंद बना रहे हैं। उन सबसे मेरी बातचीत हुई। उन सबसे मेरे अच्छे ताल्लुकात हैं। ऐसे में उनकी गुजारिश पर मैंने सिनेमाघरों में अला वैकुंठपुरमुलू की रिलीज टाल दी है। मगर अल्लू अर्जुन के चाहने वालों को हम डिप्राइव नहीं करेंगे। मैं इंडिविजुअल प्रोड्यूसर हूं। कॉरपोरेट नहीं, जो अपने फायदे के सामने दूसरे के नुकसान से आंखें मूंद लूं।

अला वैकुंठपुरमुलू फिल्म के नाम का मतलब क्या है? अला वैकुंठपुरमुलू पोथन की पौराणिक कहानी गजेंद्र मोक्षनम की प्रसिद्ध कहानी है। गजेंद्र मोक्षनम में भगवान विष्णु हाथियोंं के राजा गजेंद्र को एक मगरमच्छ (मकरम) से बचाने के लिए अवतार लेकर आते हैं। इसी तरह फिल्म में रामचंद्र के घर को वैकुंठपुरम कहा जाता है जिसमें बंटू (अल्लू अर्जुन) परिवार को बचाने के लिए आता है। और यही अला वैकुंठपुरमुलू की कहानी का सार है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे