पंजाब चुनाव - कांग्रेस ने की सीईसी की बैठक, 9 विधायकों के नाम कटना तय, 50 पर लगी अंतिम मुहर

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 14 जनवरी 2022, 07:41 AM (IST)

नई दिल्ली/चंडीगढ़ । पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार शाम को केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की पहली बैठक बुलाई। यह बैठक वर्चुअल तौर पर आयोजित की गई। दरअसल, कोविड-19 को देखते हुए कांग्रेस पार्टी ने शीर्ष नेतृत्व से जुड़ी सभी बैठकों को वर्चुअल रखने का फैसला किया है। इसी के मद्देनजर पंजाब विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद कांग्रेस पार्टी ने शाम 5 बजे यह बैठक की। पार्टी की इस सीईसी बैठक से पहले उम्मीदवारों के नाम के चयन को लेकर पंजाब कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की अब तक 4 दौर की बैठकें दिल्ली में हो चुकी हैं।

इस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने पंजाब के प्रभारी हरीश चौधरी, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और कैंपेन कमेटी के चेयरमैन सुनील जाखड़ व अन्य कई नेताओं से चर्चा कर करीब 78 उम्मीदवारों के नाम पर आम सहमति बनने के बाद केंद्रीय चुनाव समिति को ये नाम सौंप दिए हैं।

फिलहाल गुरुवार को हुई इस बैठक में करीब 78 उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा हुई। सूत्रों के अनुसार, गुरुवार को करीब 50 से 55 नामों पर सीईसी ने अंतिम मुहर लगा दी है। उम्मीद की जा रही है कि पार्टी 50 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान अगले कुछ दिनों में कर देगी। हालांकि एक खास बात यह है कि पंजाब कांग्रेस के नौ सीटिंग विधायकों के नाम इस बार चुनाव में काटे जा सकते हैं। वहीं दूसरी ओर स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने यह पहले ही साफ कर दिया है कि पंजाब में एक परिवार से एक ही सदस्य को पार्टी का उम्मीदवार बनाया जाएगा। पार्टी इसका कड़ाई से पालन करेगी।

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी इस बार दो सीटों से चुनाव लड़ सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, मुख्यमंत्री चन्नी इस बार अपने वर्तमान सीट चमकौर साहिब के साथ जालंधर के 'आदमपुर' से भी चुनाव लड़ेंगे।

गौरतलब है कि चुनाव आयोग पंजाब सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की घोषणा कर दी है। 117 सदस्यीय पंजाब विधानसभा में कांग्रेस ने साल 2017 में 77 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

सूत्रों के अनुसार, इस बार कांग्रेस पार्टी लगभग 68 मौजूदा विधायकों को टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है। इनमें से 10 ऐसे विधायक चिह्न्ति किए गए हैं, जिनके टिकट पर संशय बना है। वहीं 9 विधायकों का टिकट कटना लगभग तय माना जा रहा है। उम्मीद लगाई जा रही है कि अगले कुछ दिनों में पंजाब को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्रीय चुनाव समिति की सहमति के बाद पहली सूची जारी कर दी जाएगी।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे