जम्मू-कश्मीर में 2 आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़, आईईडी विस्फोट टला

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 10 मार्च 2021, 6:08 PM (IST)

श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर पुलिस ने दो आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है और सात लोगों को गिरफ्तार कर आईईडी विस्फोट से होने वाली बड़ी तबाही को रोकने में कामयाबी प्राप्त की है। गिरफ्तार होने वाले ज्यादा लोग सोशल मीडिया के जरिए कट्टर बने और आतंकवाद गतिविधि में शामिल हुए। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पिछले कुछ दिनों में अवंतीपोरा पुलिस ने दो आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है, जो आईईडी विस्फोटों की योजना बना रहे थे।


मॉड्यूल में से एक जैश-ए-मोहम्मद समूह से था, जो पंपोर क्षेत्र में या कहीं राष्ट्रीय राजमार्ग पर कार बम विस्फोट की योजना बना रहा थी।


उन्होंने कहा, "बीए प्रथम वर्ष के छात्र साहिल नजीर को टेलीग्राम और अन्य सोशल मीडिया एप के माध्यम से आतंकवादी सेकंड हैंड कार का प्रबंधन करने के लिए कई दिनों से प्रेरित कर रहे थे।"


"उन्हें पैसे दिए गए और उत्तरी कश्मीर से लाए जा रहे विस्फोटकों को वाहन पर आधारित आईईडी हमले के लिए कार पर फिट किया जाना था।"


कुमार ने कहा कि नजीर को तकनीकी खुफिया जानकारी की मदद से अवंतिपोरा पुलिस ने गिरफ्तार किया था। "उससे पूछताछ करने पर, उसके दो सहायकों को गिरफ्तार किया गया। पंपोर से कैसर अहमद और दो सालों से ऑवर ग्राउंड वर्कर मोहम्मद फयाद को गिरफ्तार किया गया।"


"कार फयाज के निवास से बरामद की गई थी, जिसका इस्तेमाल आईईडी विस्फोट करने के लिए किया जाना था। एक चौथे आतंकवादी सहयोगी यासिर वानी को भी गिरफ्तार किया गया था।"


उन्होंने कहा कि साहिल नजीर ने पुलिस के सामने एक गोपनीय बयान दिया है कि उन्होंने 25 जनवरी, 2021 को पंपोर में सीआरपीएफ पर ग्रेनेड हमला किया था।


कुमार ने कहा कि चारों को औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया है और जांच शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि उत्तरी कश्मीर से ऑवर ग्राउंड वर्कर की तलाश की जा रही है, जिसे आईईडी लाना था।


उन्होंने कहा कि यह एक बड़ी सफलता है और आईईडी विस्फोट को रोकने के लिए निवारक उपाय है। एक दूसरी घटना में, आईजीपी ने कहा कि पुलिस ने एक आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया, जो लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी उमर खांडे के आदेश पर अवंतीपोरा में नगर निगम की इमारत पर हमला करने की योजना बना रहा था।


उन्होंने कहा, "वे पंपोर में नगर निगम आयुक्त कार्यालय पर एक 'फिदायीन' (आत्मघाती) हमले को अंजाम देने या वहां एक आईईडी लगाने की योजना बना रहे थे।"


कुमार ने कहा कि पुलिस ने एक व्यक्ति मुशीब गोजरी को गिरफ्तार किया। गोजरी ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि 25 किलो विस्फोटक वाला एक कंटेनर उसके आवास पर था। उसने अपने दो सहयोगियों, मुनीब मुश्ताक शेख और शाहिद अहमद शाह के नाम भी बताए, जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।


"उसने पुलिस को बताया कि आईईडी बनाने के लिए आवश्यक पार्ट्स को उत्तरी कश्मीर से लाया जाना था।"


--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे