शराब, सिगरेट छोड़ने के बाद खुद को मुक्त महसूस करता हूं : राहुल महाजन

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 02 दिसम्बर 2020, 1:28 PM (IST)

नई दिल्ली। बिग बॉस सीजन 2 के प्रतियोगी और दिवंगत राजनीतिज्ञ प्रमोद महाजन के बेटे राहुल महाजन का कहना है कि उन्होंने शराब और सिगरेट छोड़ दी है। साथ ही उन्होंने हाल ही में ड्रग स्कैंडल में फंसे बॉलीवुड हस्तियों को लेकर कहा कि अगर किसी को लंबे समय तक जीना है तो शरीर को स्वस्थ और अच्छा रखना बहुत जरूरी है।

राहुल ने आईएएनएस को बताया कि अब वह स्वस्थ जीवन शैली पर फोकस कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "मेरा स्वास्थ्य, व्यक्तिगत जीवन सुधर रहा है। मैंने सिगरेट और शराब छोड़ दी है। मैं हेल्दी डाइट ले रहा हूं, एक्सरसाइज कर रहा हूं। मैं अपनी जिंदगी को आध्यात्मिक, शारीरिक, मानसिक, व्यक्तिगत संबंधों में सुधार करके बेहतर कर रहा हूं।"

उन्होंने आगे कहा, "मैं 45 वर्ष का हो गया हूं और अब जिंदगी को लेकर मेरा अलग नजरिया है। सद्गुरु और ओशो जैसे गुरुओं की बात सुनकर आप एक निश्चित उम्र में अध्यात्म में चले जाते हैं। मैं अब बहुत सी ऐसी चीजें कर रहा हूं जो मीडिया का ध्यान नहीं खींचतीं। मीडिया मेरे लिए एक शौक की तरह थी, वह मेरा काम नहीं था।"

धूम्रपान और शराब छोड़ने के बाद अब वह कैसा महसूस करते हैं? इस पर राहुल ने कहा, "एक अलग ही आजादी है। मुझे अब सिगरेट की जरूरत नहीं है, मैं बहुत मुक्त महसूस करता हूं।"

राहुल बिग बॉस के मौजूदा सीजन 14 में वापसी के लिए तैयार हैं। वह आठवें सीजन में भी गए थे। उन्होंने कहा, "वे सिगरेट के आदी हैं। मुझे तो कॉफी की भी लत नहीं रही। मेरा खुद पर बहुत नियंत्रण है। अब मुझे लगता है कि जब आप शराब पीते हैं और बात करते हैं तो वह कितना उबाऊ होता है।"

ड्रग्स के सेवन के आरोप से घिरे रहे राहुल से जब ड्रग स्कैंडल में फंसे बॉलीवुड सितारों के बारे में राय पूछी तो उन्होंने कहा, "न केवल बॉलीवुड सितारों के लिए बल्कि यह सभी के लिए है कि जीने के लिए हमें शरीर चाहिए। यदि आप लंबे समय तक जीना चाहते हैं, तो इसे अच्छा और स्वस्थ रखें।"

बिग बॉस 14 में जाने पर राहुल ने कहा, "यह एक चक्र के पूरे होने जैसा है, क्योंकि यह 2008 में टीवी पर मेरा पहला शो था। फिर मैं आठवें सीजन में गया और अब तीसरी बार जा रहा हूं। टीवी पर मैंने बिग बॉस से शुरूआत की और फिर से बिग बॉस में जा रहा हूं इसलिए मैं खुश हूं। हर किसी को वहां बार-बार जाने को नहीं मिलता।" (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे