जयपुर जैज एंड ब्लूज फेस्टिवल ने जीता जयपुरवासियों का दिल

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 02 मार्च 2020, 07:23 AM (IST)

जयपुर। ‘जयपुर जैज एंड ब्लूज फेस्टिवल‘ के प्रथम संस्करण का रविवार को धमाकेदार समापन हुआ। फेस्टिवल के अंतिम दिन सेंट्रल पार्क में जर्मनी, कनाडा और भारत के जैज कलाकारों की धमाकेदार प्रस्तुतियों ने बड़ी संख्या में उपस्थित जयपुर के संगीतप्रेमियों का दिल जीत लिया। फेस्टिवल का आयोजन सहर द्वारा यूनेस्को व राजस्थान पर्यटन के सहयोग से किया गया।

ड्रम, डबल बैस और पियानों वादक की तिकड़ी के साथ जर्मनी के वोर्किंग टाइटल ने अपनी प्रस्तुति से शाम की शानदार शुरूआत की । इन्होंने विविध शैलियों व संस्कृतियों से युक्त अनेक मधुर एवं धमाकेदार रचनाएं पेश की। इनकी प्रस्तुतियों की संगीतप्रेमियों ने दिल खोल कर तालियों के साथ सराहना की। उन्होंने ‘होम ब्लूज, ईस्ट ऑफ कैलाश और रोइंग इन द हार्ट ऑफ लेक‘ सहित कई गीत पेश किए। वोर्किंग टाइटल बैंड में पियानो पर गुस्तावो मेजो, डबल बैस पर थेओ मलका-विशआर्ट और ड्रम्स पर डेविड सोइन तपेसे थे।

इसके बाद भारत की 24 वर्षीय गायिका व गीतकार, संजीता भट्टाचार्य ने प्रस्तुति दी। उन्होंने ‘ओड टू यू, आई विल वेट और एवरीथिंग इस फाइन‘ जैसे गीत गाए। गिटार पर शुभांशु सिंह, बैस पर प्रभजोत सिंह, पियानो पर रिदम बंसल और ड्रम्स पर एवलोन वाज ने उनका साथ दिया।





ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

पुरस्कार विजेता और 35 वर्षों से कनेडियन जैज के क्षेत्र में अग्रणी सैक्सोफॉनिस्ट कलाकार, किर्क मैकडोनाल्ड की प्रस्तुति सबसे अनोखी रही। उनकी प्रस्तुति में पारंपरिक एवं आधुनिक सैक्सोफोन प्रस्तुति के संयोजन पर आधारित थी। उन्होंने ‘यू सी बट यू डोंट हियर, शैडोज, द पॉवर ऑफ फोर, साइलेंट वॉयसेज, इलेवन और द टार्च बियरर्स‘ सहित अपनी अनेक जैज रचनाएं पेश कर संगीतप्रेमियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। उन्होंने जॉन कोल्ट्रेन की रचना ‘इंडिया‘ भी प्रस्तुत की। किर्क के साथ क्लार्कनेट पर वर्जीनिया मैकडोनाल्ड, बैस पर नील स्वेंसन और ड्रम्स पर मॉर्गन चिल्ड्स साथ थे।