दूसरा टेस्ट : अर्धशतकधारी हनुमा विहारी ने बताया टीम इंडिया से किस जगह पर हुई चूक

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 29 फ़रवरी 2020, 6:50 PM (IST)

वेलिंग्टन। भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर में दाएं हाथ के बल्लेबाज हनुमा विहारी ने माना है कि दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन शनिवार को उनकी टीम के बल्लेबाजों ने न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को अपनी गलती से विकेट दिए। कीवी गेंदबाजों ने भारत को पहले दिन ही पहली पारी में 242 रनों पर ढेर कर दिया। खेल खत्म होने के बाद विहारी ने कहा कि हां, हमने जितनी उम्मीद की थी पिच ने वैसा व्यवहार नहीं किया। उन्होंने गेंद को अच्छी जगहों पर डाला और वे जानते थे कि इस पिच से क्या उम्मीद की जा सकती है।

पृथ्वी शॉ ने हमारे लिए अच्छा मंच तैयार किया था। चेतेश्वर पुजारा ने भी पिच पर अच्छा समय बिताया। सभी विकेट गलत समय पर गिरे। कोई भी विकेट पिच के कारण नहीं गिरा। अधिकतर विकेट बल्लेबाजों की गलती से गिरे। पिच अच्छी थी। विहारी ने कीवी टीम के युवा तेज गेंदबाज काइल जेमिसन की तारीफ की, जिन्होंने पहली पारी में पांच विकेट लिए। उन्होंने कहा कि उन्हें बाकी बल्लेबाजों से ज्यादा उछाल मिल रहा था और उनका अतिरिक्त उछाल ही इस तरह की पिचों पर बड़ा मुद्दा था।

उनको फ्रंटफुट पर खेलना काफी खतरनाक होता है। जेमिसन पांच विकेट के हकदार थे। विहारी ने एक समय तक अच्छी बल्लेबाजी की और नियंत्रण में दिख रहे थे। उन्होंने कहा कि पुजारा को दबाव में नहीं डालना था, इसलिए मैं लगातार रनों की कोशिश में था। उन्होंने कहा, एक छोर पर पुजारा खेल रहे थे। मैं उस समय आगे रहकर सकारात्मक खेलना चाहता था, क्योंकि पुजारा ऐसे बल्लेबाज हैं जो लंबा खेलते हैं। इसलिए मैं ज्यादा समय नहीं लेना चाहता था और पुजारा पर दबाव नहीं बनाना चाहता था, क्योंकि अगर आप स्कोरबोर्ड चालू नहीं रखोगे तो आप इस तरह के मैच में फंस जाओगे। इसलिए मैंने सकारात्मक खेलना का फैसला किया।

भारत ने अपने अंतिम छह विकेट महज 48 रनों पर खो दिए। विहारी ने माना कि उन्हें अपनी पारी को आगे ले जाना था और बड़ा स्कोर करना था। विहारी ने कहा कि चायकाल से ठीक पहले आउट होना गलत रहा। हमारा सत्र अच्छा जा रहा था, मैं गलत समय पर आउट हुआ। हमने 110 रन बना लिए थे और सिर्फ एक विकेट खोया था।

छोटी गेंदों पर भारतीय बल्लेबाज फैसला नहीं कर पा रहे थे : जेमिसन

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

क्राइस्टचर्च। न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज काइल जेमिसन ने कहा है कि भारतीय बल्लेबाज छोटी गेंदों के खिलाफ शायद फैसला नहीं कर पा रहे थे और इसलिए उन्होंने अपने विकेट दे दिए। न्यूजीलैंड ने हेग्ले ओवल मैदान पर खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन ही भारत को 242 रनों पर ढेर कर दिया। जेमिसन ने भारत के पांच बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। यह उनका दूसरा टेस्ट मैच है और वे पहली बार पांच विकेट लेने में सफल रहे हैं।

उन्होंने पृथ्वी शॉ (54), चेतेश्वर पुजारा (54), ऋषभ पंत (12), रवींद्र जडेजा (9) और उमेश यादव (0) के विकेट लिए। दिन का खेल खत्म होने के बाद जेमिसन ने कहा, वेलिंग्टन में पिच जैसा खेल रही थी वैसा इस मैदान पर नहीं हो रहा। हमें लंबे समय तक वहां रहना पड़ा। गेंद फिर भी थोड़ी बहुत हिल रही थी। भारतीय बल्लेबाजों ने वेलिंग्टन में जितने शॉट खेले थे उससे ज्यादा यहां खेले।

पिच ने शायद उन्हें इसकी मंजूरी दी, लेकिन मुझे लगता है कि उनके बल्लेबाज छोटी गेंदों (शॉर्ट पिच) को लेकर फैसला नहीं ले पा रहे थे कि क्या करना है। आप टॉस जीतते हैं, गेंदबाजी करते हैं और विपक्षी टीम को अच्छी तरह से समेट देते हैं। एक गेंदबाजी इकाई के तौर पर हम पहले टेस्ट में शानदार खेले थे। हम यहां भी अच्छा कर रहे हैं। हम अपनी रणनीति को लेकर साफ हैं।

ये भी पढ़ें - कोहली के नाम से जुड़ी यह उपलब्धि, इस विशेष क्लब में शामिल, देखें...