निर्भया केस में दोषी विनय शर्मा का नया पैतरा, मानसिक स्थिति खराब, सुप्रीम कोर्ट ने रखा फैसला सुरक्षित

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 13 फ़रवरी 2020, 09:16 AM (IST)

नई दिल्ली। निर्भया केस में दोषी विनय की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। कोर्ट से शुक्रवार को दोपहर 2 बजे फैसला आएगा। निर्भया केस में दोषी विनय शर्मा की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। फैसला शुक्रवार को सुनाया जाएगा। आपकाे बताते जाए कि राष्ट्रपति द्वारा खारिज दया याचिका को विनय ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। दोषी विनय शर्मा ने राष्ट्रपति की ओर से दया याचिका खारिज किए जाने की प्रक्रिया पर सवाल उठाने के साथ ही मानसिक स्थिति खराब होने की दलील देकर फांसी से माफी की मांग की है।


इससे पहले निर्भया गैंगरेप और मर्डर के मामले में चारों दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी करने के लिए पीड़िता के माता-पिता और दिल्ली सरकार ने निचली अदालत का रुख किया है। कोर्ट में बुधवार को इस मामले में सुनवाई हुई। इससे पहले सात फरवरी को निचली अदालत ने तिहाड़ जेल प्रशासन की याचिका को खारिज कर दिया था, जिसमें दोषियों को फांसी देने के लिए नई तारीख की मांग की गई थी। कोर्ट ने कहा था कि जब दोषियों को कानून जीवित रहने की इजाजत देता है, तब उन्हें फांसी पर चढ़ाना पाप है।'

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे


बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए निर्भया की मां कोर्ट में फूट-फूटकर रो पड़ीं। निर्भया के माता-पिता द्वारा एक याचिका दायर की गई थी, जिसमें चारों दोषियों के लिए नया डेथ वारंट जारी करने की मांग की गई थी। कोर्ट से बाहर आकर निर्भया की मां ने कहा कि न्यायाधीश दोषियों को फांसी देने की तारीख तय नहीं करना चाहते और उन्हें समर्थन दे रहे हैं। मैं सुप्रीम कोर्ट से डेथ वारंट जारी करने की अपील करती हूं, क्योंकि पटियाला हाउस कोर्ट नए सिरे से डेथ वारंट जारी करने के मूड में नहीं है।