चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने के बाद वीडियो किया था वायरल, आरोपी को एसओजी ने किया गिरफ्तार

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 23 जनवरी 2020, 7:10 PM (IST)

जयपुर। एसओजी की साइबर क्राइम इन्वेस्टिगेशन यूनिट ने गुरुवार को कार्रवाई करते हुए चाइल्ड पोर्नोग्राफी को देखने एवं वीडियो वायरल करने वाले 28 वर्षीय अकबर खान निवासी श्रीगंगानगर को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया गया। जहां न्यायालय ने आरोपी को चार दिन का पुलिस रिमांड पर सौंप दिया है। पूछताछ में आरोपी से इस प्रकार के चाईल्ड पोर्नोग्राफी के वीडियो उसने कहां से प्राप्त किए थे व ग्रुप में भेजने का उसका उद्देश्य क्या था और कौन-कौन इस अपराध में शामिल हैं। वहीं आरोपी अकबर खान एक आपराधिक किस्म का व्यक्ति है जिसके विरूद्ध पूर्व में रायसिंहनगर व श्रीगंगानगर में संगीन मारपीट के मामले दर्ज है और कई बार न्यायिक अभिरक्षा में रहा है।
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस एटीएस एवं एसओजी राजस्थान जयपुर के अनिल पालीवाल ने बताया कि एसओजी की साइबर क्राइम इन्वेस्टिगेशन यूनिट द्वारा नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल की मॉनिटरिंग की जाती है जिसके द्वारा आमजन की साइबर क्राइम संबंधित शिकायतों का निवारण किया जाता है, साथ ही रेप, प्रोर्न वीडियो, चाइल्ड पोर्नाेग्राफ्री की शिकायतों पर आवश्यक निहित कानूनी कार्रवाई की जाती है।

वहीं पुलिस अधीक्षक अभिजीत सिंह के निर्देशन में उक्त कार्रवाई को अंजाम देने में पोर्टल पर कार्यरत सब इंस्पेक्टर गजेन्द्र शर्मा को चाईल्ड पोर्नोग्राफी पर जांच सौंपी गई, उनकी जांच रिर्पाेट पर राज्य में पहली बार चाईल्ड पोर्नोग्राफी के वीडियो सोशल साइट पर देखने व वीडियो वायरल करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध मामला दर्ज किया गया। जो एक प्राईवेट नशा मुक्ति केन्द्र श्रीगंगानगर में संचालित किया जा रहा था।

27 दिसम्बर को एक चाइल्ड पोर्नाेग्राफी का 1 मिनट 14 सेकेंड का किया था वीडियो वायरल: पालीवाल ने बताया कि आरोपी अकबर खान ने 27 दिसम्बर 2019 की रात को अपने मोबाइल फोन से वाट्सएप ग्रुप “ गंगानगर का राजनीतिक अखाङा ” में एक चाइल्ड पोर्नाेग्राफी का 1 मिनट 14 सेकेंड का वीडियो वायरल कर दिया, जिसको लेकर ग्रुप के सदस्यों ने एतराज जताया, इस कारण ग्रुप के एडमिन रजत स्वामी निवासी श्रीगंगानगर ने अकबर खान को वाट्सएप ग्रुप से हटा दिया। इस ग्रुप के श्रीगंगानगर जिले के संभ्रात एवं राजनेतिक व्यक्ति भी सदस्य हैं जिनमें से चन्द्र कुमार सोनी जो कि एक सामाजिक कार्य कर्ता हैं, उन्होंने अकबर खान द्वारा ऐसा वीडियो वायरल करने को लेकर एक शिकायत नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल के स्टेट पोर्टल पर दर्ज करवाई थी। शिकायत के सीसीयूआई द्वारा मामला दर्ज कर जांच करते हुए पाया कि संचालित वाट्सएप पर अकबर खान ने कथित वीडियो वायरल किया था। जिसके बाद कार्रवाई करते हुए आरोपी को पकड़ा गया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे