प्रदेश में शीघ्र ही रूफटाॅप रेस्टोरेंट बाॅयलाॅज लागू होंगे

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 23 नवम्बर 2019, 06:35 AM (IST)

जयपुर । नगरीय विकास आवासन एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल की अध्यक्षता में हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में रूफटाॅप रेस्टोरेंट के बाॅयलाॅज के प्रारूप पर विचार-विमर्श किया गया।
बैठक में यूडीएच शांति धारीवाल ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे एक सप्ताह में रूफटाॅप रेस्टोरेंट बायलाॅज को अंतिम रूप देकर अधिसूचित (नोटिफाईड) करवायें एवं जो रूफटाॅप रेस्टोरेंट्स सीज किये गये है। उनकी सीज खोलें एवं 90 दिवस के भीतर उनसे निर्धारित मापदण्डों के अनुरूप शपथ पत्र लेकर स्वीकृती प्रदान करें।
बैठक में शांति धारीवाल ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में रूफटॉप रेस्टोरेंट्स के संचालन के लिए कोई मापदंड निर्धारित नहीं है। रूफटाॅप रेस्टोरेंट्स के संचालन के लिये नगरीय विकास विभाग एवं स्वायत्त शासन विभाग ने तकनीकी एवं सामान्य मापदंड बनाये है। उन्होंने बताया कि रूफटॉप रेस्टोरेंट्स के संचालन के लिए संचालक को तीन माह में निर्धारित मापदंडों पूर्ण करते हुये शपथ-पत्र देना होगा। जिनमें मुख्य रूप से रूफटाॅप रेस्टोरेंट्स में आपदा के दौरान किसी प्रकार की जनहानि ना हो, अग्निशमन के पुख्ता प्रबंध करने होंगे, रूफटाॅप रेस्टोरेंट्स पर किसी प्रकार की फ्लैम/गैस के माध्यम से कुकिंग नहीं की जायेगी। रूफटॉप रेस्टोरेंट में एलपीजी स्टोव और कोयले के चूल्हे का इस्तेमाल करना प्रतिबंधित होगा। वहाॅ पर खाद्य सामग्री सिर्फ हाॅट प्लेट के माध्यम से गर्म की जा सकेगी। फायर सेफ्टी नॉर्म्स की पालना करनी जरूरी होगा।
रूफटॉप रेस्टोरेंट में पार्किंग के लिए पर्याप्त स्थान उपलब्ध होना चाहिए अथवा वैलेट पार्किंग की व्यवस्था आवश्यक रूप से करनी होगी। रूफटाॅप रेस्टोरेंट्स का संचालन मास्टर प्लान में व्यवसायिक भवन एवं मिक्स यूज भवनों में किया जा सकेगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे