IIT खड़गपुर के उद्यमिता जागरूता अभियान का जयपुर में हुआ आयोजन

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 18 अक्टूबर 2019, 12:16 PM (IST)

जयपुर । उद्यमिता प्रकोष्ठ, IIT खड़गपुर का इस साल का उद्यमिता जागरूकता अभियान का 10 वां संस्करणग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में 12 अक्टूबर 2019 को आयोजित हुआ । इस कार्यक्रम में विभिन्न कॉलेजों से 500 से अधिक छात्रों ने भाग लिया। किशोर जयरामन (अध्यक्ष रोल्स-रॉयस, भारत और दक्षिण एशिया), शाद रहमान खान (सीईओ और सह-संस्थापक, Phixman.com) और अमित सिंघल (सीईओ, स्टार्टअप बडी)जैसे प्रतिष्ठित उद्यमियों और उद्योगपतियों के शब्दों के माध्यम से स्टार्ट-अप उत्साही छात्रों को एहसास हुआ कि एक वास्तविक उद्यमी वह होता है जो सिर्फ सपने नहीं देखता है, वह दरवाजे को खटखटाने के अवसर का इंतजार नहीं करता है, वह खुद दरवाजा बनाता है।

कार्यक्रम में किशोर जयरामन ने युवाओं को स्टार्ट्अप आरंभ करने के लिए मोटिवेट करते हुए उन्हें अपने आसपास की समस्याओं का हल सुझाते हुए उन्हीं के इर्द-गिर्द अपनी प्रॉब्लम सॉल्यूशन सर्विस प्रोवाइड करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि केवल स्टार्टअप शुरु करने के लिए शुरूआत नहीं होनी चाहिए, वरन मन में पैशन हो तो स्टार्टअप शुरु करना चाहिए।

सेमिनार में छात्रों को संबोधित करते हुए उन्होंने उन्हें सफलता पाने की राह के बारे में भी बताया। सेमिनार के अंत में जयरामन ने छात्रों के विभिन्न प्रश्नों के जवाब भी दिए। सेमिनार ने एंटरप्रेन्योर शाद अहमद ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी बिजनेस में कोई बड़ा रिस्क नहीं होता वरन केल्कुलेटेड रिस्क होता है कि हम किस हद तक सर्वाइवल कर पाएंगे। खान ने कहा कि हर नए एंटरप्रेन्योर को इस केल्कुलेटेड रिस्क को टारगेट करते हुए ही स्ट्रेटेजी बनानी चाहिए और उसी के हिसाब से प्लानिंग को एग्जीक्यूट भी करना चाहिए। ऐसा करने से सफलता के चांसेज बढ़ जाते हैं। उन्होंने छात्रों को सलाह दी कि वे कभी भी एकदम से बिजनेस आरंभ न करें वरन पहले उससे जुड़ी सारी जानकारी लें, एक अच्छी टीम साथ लें और सही तरीके से प्लानिंग करते हुए आगे बढ़े। इस एक तरीके से ही स्टार्टअप को कामयाब बनाया जा सकता है।







ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे