प्रशासकों की समिति ने BCCI के सदस्यों को भेजा चुनाव का नोटिस

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 03 अक्टूबर 2019, 3:46 PM (IST)

नई दिल्ली। प्रशासकों की समिति (सीओए) ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सदस्यों को 23 अक्टूबर को सुबह 11 बजे होने वाले चुनावों को लेकर नोटिस भेज दिया है। इस नोटिस में समिति ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के नौ अगस्त 2018 के आदेश के साथ 20 सितंबर के आदेश के मुताबिक अर्हता प्राप्त अधिकारी ही मुंबई में बीसीसीआई मुख्यालय में होने वाली वार्षिक आम बैठक में हिस्सा लेंगे।

सीओए ने नोटिस में कहा है कि कृपया इस बात पर ध्यान दीजिए कि सुप्रीम कोर्ट के 9 अगस्त 2018 के आदेश के साथ 20 सितंबर 2019 के आदेश के मुताबिक अर्हता प्राप्त अधिकारी ही वार्षिक आम बैठक में हिस्सा ले सकेंगे।

बयान में कहा गया है, बीसीसीआई के योग्य सदस्य अपने उन प्रतिनिधियों के साथ बैठक में आ सकते हैं जिन्हें बीसीसीआई के चुनाव अधिकारी इस नोटिस के तहत योग्य पाते हैं। इस बैठक का एजेंडा बोर्ड के पांच अधिकारियों, जनरल बॉडी के दो प्रतिनिधियों को चुनना है।

विजय हजारे ट्रॉफी : पांडे का शतक, कर्नाटक की जीत

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

बेंगलुरू। कप्तान मनीष पांडे (नाबाद 142) के शतक के बाद प्रसिद्ध कृष्णा और श्रेयस गोपाल की शानदार गेंदबाजी के दम पर कर्नाटक ने बुधवार को एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के मैच में छत्तीसगढ़ को 79 रनों से हरा दिया। कर्नाटक ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 285 रन बनाए थे। छत्तीसगढ़ की टीम 44.4 ओवरों में 206 रनों पर ऑल आउट होकर मैच हार गई।

छत्तीसगढ़ के लिए अमनदीप खरे ने 43, शशांक चंद्रकार ने 42 और आशुतोष सिंह ने 32 रनों का योगदान दिया। उसका कोई भी बल्लेबाज विकेट पर पैर नहीं जमा सका और टीम लगातार विकेट खोती रही। प्रसिद्ध और गौतम ने तीन-तीन विकेट अपने नाम किए। इनके अलावा रोनित मोरे ने दो विकेट लिए। वी. कौशिक और कृष्णाप्पा गौतम के हिस्से एक-एक विकेट आया।

इससे पहले, लोकेश राहुल और पांडे की बेहतरीन पारियों ने कर्नाटक को दमदार स्कोर दिया। राहुल ने एक बार फिर बेहतरीन बल्लेबाजी की और 103 गेंदों की पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया। वहीं पांडे ने 118 गेंदों की पारी में पांच चौके और सात छक्के लगाए। इन दोनों के दम पर ही कर्नाटक दमदार स्कोर खड़ा कर पाई।

ये भी पढ़ें - BCCI ने धवन व स्मृति को किया अर्जुन अवार्ड के लिए नामित