Pakistan: हिन्दू लडकी की हत्या का शोएब अख्तर ने किया विरोध

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 18 सितम्बर 2019, 08:08 AM (IST)

सिंध। पाकिस्तान (Pakistan)में सिंधी हिंदू लड़की नम्रता चंदानी की हत्या का विरोध में मंगलवार देर रात कराची की सड़कों पर हजारों प्रदर्शनकारियों ने हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। मेडिकल की छात्रा नम्रता की लाश उसके हॉस्टल में संदिग्ध परिस्थिति में मिली थी। उसके गले में कपड़ा बंधा हुआ था। नम्रता के भाई ने हत्या का आरोप लगाया है। पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर पाकिस्तान में हिंदू लड़की निम्रिता कुमारी के लिए न्याय की मांग को लेकर ऑनलाइन अभियान में शामिल हो गए हैं। इस मामले में निम्रिता को न्याय दिलाने के लिए सोशल मीडिया पर ‘जस्टिस फॉर निम्रिता’ ऑनलाइन अभियान शुरू किया गया है।

अख्तर ने ट्वीट किया कि युवा मासूम लड़की निम्रिता कुमारी की संदिग्ध मौत के बारे में पढ़कर बेहद दुख हुआ। मुझे उम्मीद है कि उन्हें न्याय मिलेगा और वास्तविक अपराधी पकड़े जाएंगे। मेरा दिल हर पाकिस्तानी के साथ धड़कता है चाहे वह किसी भी धर्म का हो। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें।

नम्रता चंदानी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सामने आई है, जिससे कई राज खुलेे हैं।
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, नम्रता चंदानी की गर्दन पर एक बड़ा निशान है। इसके अलावा दाएं पैर पर भी कुछ निशान हैं। साथ ही शरीर के कई हिस्सों पर बड़े निशान देखने को मिले हैं। इस मामले में स्थानीय पुलिस का कहना है कि इसे हत्या बताना काफी जल्दी होगा।

आपको बताते जाए कि नम्रता सिंघ प्रांत के चंदानी घोटकी जिले की रहनेे वाली थी। नम्रता के घरवालों का आरोप है कि उस पर धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया गया है। सोमवार दोपहर को उसका शव उसके हॉस्टल के कमरे की चारपाई पर पड़ा मिला। नम्रता की गर्दन पर एक कपड़ा बंधा हुआ था और उसका कमरा अंदर से बंद था।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

फ्री प्रेस जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस अधिकारी इस मामले को सुसाइड बताकर उसे रफा-दफा करना चाहते थे हालांकि नम्रता के परिवार का कहना है कि उसकी हत्या की गई है। नम्रता के भाई विशाल की प्राथमिक जांच से पता चलता है कि नम्रता की हत्या की गई है।


भाई विशाल ने बताया कि यह आत्महत्या नहीं है, आत्महत्या के निशान अलग होते हैं। मैंने उसकी गर्दन पर तार के निशान देखे हैं। उसके हाथ पर भी निशान हैं। विशाल ने कहा कि ये तार के ही निशान है लेकिन उसकी दोस्त का कहना है कि उसने नम्रता को जब देखा तो उसके गले में दुपट्टा बंधा हुआ था।

विशाल से जब पूछा गया कि क्या नम्रता को किसी तरह की परेशानी थी तो उनका कहना था कि नहीं ऐसा कुछ भी नहीं है, मैंने खुद उससे दो दिन पहले ही बात की थी, वह पढ़ाई में बहुत अच्छी थी।