राजस्थान के 5 जिलों में बाढ के हालात बने, सेना ने संभाला मोर्चा

www.khaskhabar.com | Published : रविवार, 15 सितम्बर 2019, 1:31 PM (IST)

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan) में मानसून ने विदाई समय कोहराम मचा दिया है। तीन दिन से हो रही बारिश के कारण 5 जिलों में बाढ़ के हालात बन गए हैं। चंबल नदी उफान पर बनी हुई है। सैंकड़ों गांव टापू का रूप धाारण कर चुका है। बाढ़ से बचाव के लिए सेना को बुलाया गया है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें भी बचाव एवं राहत कार्यों में जुट गई है। लोगों को राहत कार्य कर रही है।

कोटा बैराज के सभी 19 और माही बांध के 16 गेट खोल दिए हैं। बीसलपुर बांध के भी 8 गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही है। जयपुर शहर में सुबह से तेज बारिश हो रही है। यहां भी सड़कें दरियां का रूप धारण कर लिया है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

कोटा संभाग के बारां, बूंदी और झालावाड़ समेत प्रतापगढ़ और बांसवाड़ा में हो रही बारिश के कारण सभी नदी नाले भर गए हैं। चंबल उफान पर है। कोटा बैराज से लगातार सभी 19 गेट खोलकर की जा रही पानी की निकासी के कारण कोटा शहर की कई बस्तियों में पानी भर गया। इससे लोग घरों में फंसकर रह गए हैं।

हालात को देखते हुए सरकार ने शनिवार रात को ही सेना को बुला लिया था। कोटा के इटावा क्षेत्र में 50 से अधिक गांव टापू का रूप धारण कर चुके हैं। इटावा कस्बा खुद 23 साल बाद टापू बन गया है।