गैंगरेप पीड़िता ने जान बचाने के लिए बिना कपड़ों के लगाई दौड़

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 14 सितम्बर 2019, 11:23 AM (IST)

भीलवाड़ा। राजस्थान के भीलवाड़ा में गैंगरेप पीडिता इतनी दहशत में आ गई कि करीब 500 मीटर तक बिना कपडों के दुष्कर्मियों से अपने को बचाने के लिए दौड़ती रही। मामला नौ सितम्बर का बताया जा रहा है। मामला यह था कि पीडिता एक बाइक पर दो लोगों के साथ मंदिर जा रही थी। इस दाैरान सड़क किनारे शराब पी रहे आरोपियों ने बाइक रुकवाकर उसे अगवा कर लिया। तीनों बदमाशों ने बारी-बारी से अपनी हवस मिटाई। इस मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों को दबोच लिया है। उन पर पॉक्‍सो ऐक्ट के तहत फास्‍ट ट्रैक अदालत में केस चलेगा।


मिली के अनुसार, एक युवती बाइक पर बैठकर मंदिर जा रही थी। इसी दौरान शराब पी रहे हैं । तीनों लोगों ने बाइक पर बैठे लोगों को पीटकर भगा दिया। आरोपी लड़की को अगवाकर खेतों में ले गए। गैंगरेप के बाद पीडिता इतनी डर गई कि जब एक शख्‍स ने उसे पहनने के लिए कपड़े दिए। लेकिन वह जान बचाने के लिए बिना कपड़ों के भागने निकली। कुछ देर बाद जब वह रुकी तो उसे पहनने के लिए कपड़े दिए गए उसके बाद वह घर पहुंची।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

पुलिस ने बताया कि पीडिता के साथी पास के बाजार में पहुंचे और एक दुकानदार से मदद की गुहार लगाई। इसके बाद लोग मदद के लिए दौड़े। पुलिस का कहना है कि नाबालिग के चेहरे पर चोटों के निशान थे, जो उस पर किए गए अत्‍याचार की कहानी कह रहे थे। पुलिस ने इसम मामले में नारायण गुर्जर (40), कैलाश कहार (24) और राजू कहार (25) को गिरफ्तार कर लिया है। इन पर पॉक्‍सो के अलावा गैंगरेप और अनुसूचित जाति ऐक्‍ट के तहत फास्‍ट ट्रैक अदालत में केस चलेगा।

ये भी पढ़ें - शर्मनाक! पत्नी से गैंगरेप और पति को पीट-पीटकर मार डाला