जन कल्याणकारी योजनाओं का मिले आमजन को लाभ

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 31 अगस्त 2019, 12:27 PM (IST)

जयपुर। जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्यमंत्री एवं भीलवाड़ा जिले के प्रभारी श्री अर्जुन सिंह बामनिया ने शुक्रवार को भीलवाड़ा जिला कलेक्ट्रेट सभागार में मासिक समीक्षा बैठक आयोजित कर विभिन्न विभागीय योजनाओं की जिले में प्रगति की समीक्षा की। इस अवसर पर सांसद सुभाष बहेडिया, विधायक रामलाल जाट, कैैलाश त्रिवेदी एवं गोपीचंद मीणा, एडीएम प्रशासन राकेश कुमार, शहर नरेन्द्र जैन, जिला परिषद सीईओ गोपाल राम बिरड़ा सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

विभाग बार योजनाओं की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने सभी विभागों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए एवं कहा कि योजनाओं के क्रियान्वित समयबद्ध तरीके से की जाए ताकि आमजन को समय पर राहत उपलब्ध हो सके। जिले में वर्षा के दौरान खराब हुई सड़कों एवं पूर्व में प्रस्तावित नई सड़कों आदि के कायोर्ं को वर्षा काल पश्चात् शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंनेे कहा कि गारंटी पीरियड में खराब होने वाली सड़कों की जांच करवाई जाए एवं ठेकेदार फर्म के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई की जाए। विधायक श्री रामलाल जाट ने खनन क्षेत्र की सड़कों की मोटाई बढ़ाने एवं उनकी गुणवत्ता सुधारने का सुझाव दिया। जिन सड़कों का ठीक से कार्य नहीं हुआ है एवं पटरी नहीं भरने के कारण हुई दुर्घटनाओं की जानकारी देने हेतु पुलिस अधिकारियों को भी प्रभारी मंत्री ने कहा। आने वाले रबी के मौसम में किसानों को पर्याप्त बिजली मुहैया कराने के लिए आवश्यक व्यवस्था शुरू में ही कर लेने के निर्देश अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अधिकारियों को दिए गए। पेयजल से संबंधित विभिन्न योजनाओं की समयबद्ध प्रगति एवं पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए जलदाय विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए।

प्रभारी मंत्री ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए की चिकित्सा सेवाओं से जुड़े हुए अधिकारी कर्मचारी अनावश्यक रूप से अवकाश पर ना जाएं एवं मौसमी बीमारियों को देखते हुए वे अपनी ड्यूटी पर उपलब्ध रहें ऎसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने मोबाइल चिकित्सा टीमों को भी तैयार रखने के निर्देश दिए ताकि किसी भी आपात स्थिति में तुरंत सहायता उपलब्ध करवाई जा सके। विधायक रामलाल जाट ने सुझाव दिया की स्वास्थ्य बीमा योजना के उचित लाभ हेतु निजी अस्पतालों के साथ बैठक कर उन्हें दस्तावेजों की आवश्यकता के संबंध में वस्तुस्थिति स्पष्ट की जाए। योजना के तहत जुड़े निजी अस्पतालों को स्पष्ट किया जाए कि मरीज को भर्ती करने के 24 घंटे के भीतर दस्तावेज उपलब्ध कराने का प्रावधान है। इस आधार पर मरीज की भर्ती तुरंत करते हुए इलाज शुरू किया जाए। जिन रिमोट क्षेत्रों में राशन डीलर नहीं है वहां पर वैकल्पिक व्यवस्था करने के निर्देश जिला रसद अधिकारी को दिए।

प्रभारी मंत्री ने बैठक में स्पष्ट किया कि किसी भी जर्जर भवन में कोई गतिविधि संचालित नहीं की जाए विशेषकर जर्जर विद्यालय भवनों में बच्चों को नहीं बिठाया जाए। जो भी भवन जर्जर है एवं उनके पास भूमि उपलब्ध नहीं है उनके बारे में जिला कलेक्टर से मिलकर उचित कार्रवाई करने के निर्देश भी उन्होंने दिए। मिड डे मील खाकर पिछले दिनों बच्चों के बीमार पड़ने की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए प्रभारी मंत्री में पोषाहार की गुणवत्ता पर जोर देने की बात भी कही। साथ ही स्कूलों में पानी की टंकी की नियमित सफाई करने की व्यवस्था करने को भी कहा।

विधायक कैलाश त्रिवेदी ने मीनू के अनुसार ही मिड डे मील वितरित करने एवं दूध भी डेरी के माध्यम से गुणवत्ता वाला खरीदने पर जोर दिया। बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री ने शहर में सफाई व्यवस्था, फसल खराबे की उचित जानकारी, रबी की फसल के लिए खाद एवं बीज की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने, श्रमिक कार्ड समय पर बनाने, पीएम आवास के कार्य समय पर पूर्ण करने, नरेगा में श्रमिकों को समय पर रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्मित शौचालय में पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करने जैसे कई मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की और जरूरी दिशा प्रदान किए।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे