Bhiwadi Mob Lynching : रत्तीराम जाटव आत्महत्या मामले का गतिरोध तीसरे दिन समाप्त , यहां देखें

www.khaskhabar.com | Published : रविवार, 18 अगस्त 2019, 1:34 PM (IST)

अलवर। अलवर जिले के टपूकड़ा में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) में मारे गए हरीश जाटव के पिता रत्तीराम जाटव की आत्महत्या के बाद पैदा हआ गतिरोध रविवार को तीसरे दिन समाप्त हो गया है। टपूकड़ा इलाके में आज पद्रर्शनकारियों ने बाजार बंद करने की अपील की थी। इसके बाद प्रशासन और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई थी।

जिला कलेक्टर ने संघर्ष समिति को दरकिनार कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के आश्वासन को पीड़ित परिवार तक पहुंचाया। इसके बाद बिना किसी लिखित के धरना समाप्त करवा दिया गया है। अब रत्तीराम जाटव के शव के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया प्रारंभ करवा दी गई। जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह ने बताया कि पीड़ित पक्ष की किसी भी मांग को नहीं माना गया है। लेकिन, सरकार तक उनकी मांग को पहुंचाने और मामले की उच्चस्तरीय जांच का आश्वसन दिया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

उन्होंने कहा कि प्रशासन पीड़ित परिवार को निजी कंपनी में नौकरी और सामाजिक संबल देने के लिए अपने स्तर पर सहयोग करेगा।

गतिरोध टूटने के बाद बसपा विधायक संदीप यादव ने कहा प्रशासन और सरकार पीड़ित परिवार के साथ है। उन्हें न्याय दिलाया जाएगा। भाजपा नेता रामकिशन मेघवाल ने बताया कि जिला कलेक्टर ने पीड़ित परिवार से समझौता किया है। एक सप्ताह में मांग पूरी करने की बात की है, लेकिन अंतिम वार्ता कलेक्टर ने पीड़ित परिजनों से सीधी की है।

आपको बताते जाए कि टपूकड़ा इलाके के झीवाना गांव निवासी रत्तीराम जाटव ने बेटे हरीश की मॉब लीचिंग में हत्या कर दी गई थी। इसके बाद मामले में न्याय नहीं मिलने और पुलिस की कार्यशैली से परेशान होकर गत गुरुवार को रत्‍तीराम ने सुसाइड कर लिया था। इससे पहले पीड़ित परिवार और दलित समाज के लोग अपनी मांगों को लेकर टपूकड़ा सीएचसी पर धरना दे रहे थे।