घग्गर के कारण आने वाली बाढ़ों का कांग्रेस सरकार करेगी स्थायी हल: सरकारिया

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 22 जुलाई 2019, 4:57 PM (IST)

चंडीगढ़। बरसात के मौसम में घग्गर नदी द्वारा किए जाते नुकसान का स्थायी हल कांग्रेस सरकार द्वारा जल्द ही किया जायेगा। यह खुलासा आज पंजाब के जल स्रोत मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया द्वारा संगरूर और पटियाला जिले के बाढ़ प्रभावित गाँवों के दौरे और राहत कार्यों के जायज़े के दौरान किया गया। दो दिवसीय पंजाब दौरे के आज आखिरी दिन सरकारिया द्वारा संगरूर जिले के गाँव फूलद, जहाँ घग्गर में दरार पडऩे के कारण भारी नुक्सान हुआ है, और खनौरी के अलावा पटियाला जिले के गाँव बादशाहपुर और सिरकपड़ा का दौरा किया गया।

उन्होंने कहा कि घग्गर द्वारा किये जाते नुक्सान के हल के लिए पिछली सरकार द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया बल्कि केवल बयानबाजी ही की गई है जबकि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा इसके स्थायी हल के लिए सहृदय प्रयत्न किये जा रहे हैं। जल स्रोत मंत्री ने बताया कि इस बार साल की शुरुआत में ही बाढ़ निरोधक प्रबंधों सम्बन्धी मीटिंग की गई थी, जोकि पहले बरसात के मौसम में होती थी, जिसके परिणामस्वरूप इस बार राज्य में 15 से 17 जुलाई के बीच रिकार्ड भारी बारिश पडऩे के बावजूद पिछले सालों की अपेक्षा कम नुक्सान हुआ है क्योंकि सभी प्रबंध समय रहते कर लिए गए थे।

बताने योग्य है कि कल उनके द्वारा सतलुज और ब्यास नदियों के निरीक्षण के बाद अमृतसर, तरन तारन, फिऱोज़पुर, फरीदकोट, मुक्तसर साहिब और बठिंडा जि़लों में से गुजऱते ड्रेनों का जायज़ा भी लिया गया था। अधिकारियों को राहत कार्यों में कोई कसर न छोडऩे का आदेश देते हुए जल स्रोत मंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार लोगों के जान-माल की सुरक्षा के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है। उन्होंने बताया कि भारी बारिश के कारण फसलों के हुए नुक्सान के लिए विशेष गिरदावरी कराई जा रही है और नियमों के मुताबिक पीडि़तों को जल्द ही मुआवज़ा दिया जायेगा। इस दौरे के दौरान उनके साथ मुख्य इंजीनियर (नहर) जगमोहन सिंह मान, मुख्य इंजीनियर (ड्रेनेज) संजीव कुमार गुप्ता और सम्बन्धित सुपरिनटैंडिंग इंजीनियर और जल स्रोत विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे