महाविद्यालयों में एक हजार शिक्षकों के पदों को जल्द भरा जाएगा: उच्च शिक्षा राज्य मंत्री

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 11 जुलाई 2019, 4:07 PM (IST)

जयपुर। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवरसिंह भाटी ने गुरुवार को राज्य विधानसभा में बताया कि बजट अभिभाषण 2019-20 की घोषणा के अनुसार राजकीय महाविद्यालयों में रिक्त पदों में से एक हजार शिक्षकों के पदों को शीघ्र भरने के प्रयास होंगे।

भाटी विधायकों द्वारा पूछे पूरक प्रश्नों का उत्तर दे रहे थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश के राजकीय महाविद्यालय के स्वीकृत शैक्षणिक पदों की संख्या 6 हजार 500 है, उनमें से 4 हजार 500 पद भरे हुए तथा दो हजार शिक्षकों के पद अभी रिक्त हैं। उन्होंने बताया कि इन पदों में से एक हजार पदों को बजट अभिभाषण 2019-20 के अनुसार इस वर्ष भरने की घोषणा की गई है, जिस पर शीघ्र कार्यवाही होगी।

उन्होंने कहा कि धरियावाद में स्वीकृत पदों के अनुपात में कार्यरत पदों की संख्या कम है। उन्होंने आश्वस्त करते हुए कहा कि आने वाले समय में स्थानांतरण या पदोन्नति के माध्यम से इन रिक्त पदों को भरने का प्रयास किया जाएगा। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने भी शिक्षा राज्य मंत्री को आदिवासी बाहुल्य इस क्षेत्र में रिक्त पड़े पदों को शीघ्र भरने की बात कही।

उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने बताया कि वर्तमान शैक्षणिक सत्र में प्रदेश भर के राजकीय महाविद्यालय में छात्रों की सीटें 10 प्रतिशत ईडब्ल्यूएस व अन्य के साथ 15 प्रतिशत सीटें बढ़ाई गई है। इस तरह कुल 37 हजार सीटों की बढ़ोतरी की गई है। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय विधायक की मांग और गुणावगुण के आधार पर सीटें बढ़ाने की व्यवस्था की जा सकेगी।

इससे पहले विधायक गोतमलाल के मूल प्रश्न के जवाब में भाटी ने विधानसभा क्षेत्र में संचालित राजकीय महाविद्यालयाें में राजकीय महाविद्यालय धरियावाद एवं राजकीय महाविद्यालय, लसाडिया में स्वीकृत, कार्यरत एवं रिक्त पदों का विवरण सदन की मेज पर रखा।

उन्होंने बताया कि विधान सभा क्षेत्र धरियावाद में संचालित राजकीय महाविद्यालयो में राजकीय महाविद्यालय धरियावाद एवं राजकीय महाविद्यालय, लसाडिया में रिक्त पदों को पदोन्नति या चयनित अभ्यर्थी उपलब्ध होने पर या अनुकम्पात्मक नियुक्ति या स्थानांतरण के समय भरा जा सकेगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे