प्रणब ने EVM को लेकर जताई चिंता, कहा : इनकी सुरक्षा EC की जिम्मेदारी

www.khaskhabar.com | Published : मंगलवार, 21 मई 2019, 5:26 PM (IST)

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे गुरुवार (23 मई) को आने हैं। हालांकि 19 मई को सातवें व अंतिम चरण के मतदान के बाद सामने आए एग्जिट पोल ने विपक्षी खेमे में जबरदस्त हलचल मचा रखी है। पोल के अनुसार एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है। ऐसे में कांग्रेस सहित सभी विपक्षी दलों ने आशंका जताई है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) के साथ छेड़छाड़ की गई है।

अब पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी ईवीएम को लेकर आ रही खबरों पर चिंता जताई है। उन्होंने मंगलवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर इससे संबंधित एक स्टेटमेंट (बयान) डाला। इसमें लिखा है कि ईवीएम को लेकर आ रहीं खबरें चिंताजनक हैं। ईवीएम की सुरक्षा करना चुनाव आयोग की जिम्मेदारी है। चुनाव आयोग को जनता का भरोसा नहीं टूटने देना चाहिए।

लोकतंत्र में लोगों के निर्णय पर किसी तरह का संकट नहीं आना चाहिए. लोगों का फैसला हमेशा किसी भी तरह के संशय से हटकर सर्वोच्च रहना चाहिए। संस्थानों में विश्वास रखते हुए मेरा मानना है कि जो कार्य कर रहा है उसी की जिम्मे ही संस्थान को सही तरीके से चलाना होता है। अभी जो भी संशय सामने आ रहे हैं, उन पर चुनाव आयोग को कार्रवाई करनी चाहिए ताकि इन संशयों को कोई जगह ना मिले।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

हालांकि इससे पहले मुखर्जी ने आज ही आयोग की कार्यशैली की प्रशंसा की थी। मुखर्जी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यदि हम संस्थानों को मजबूत करना चाहते हैं तो हमें ध्यान में रखना होगा कि ये संस्थान देश की पूरी तरीके से अच्छे तरीके से सेवा कर रहे हैं। यदि देश में लोकतंत्र सफल साबित हो रहा है तो इसके लिए चुनाव आयोग को काफी हद तक जिम्मेदार माना जाना चाहिए। सुकुमार सेन से लेकर मौजूदा चुनाव आयुक्तों ने इसके लिए बहुत काम किया है।