लोकसभा चुनाव - अब तक का सबसे बड़ा चुनावी इंतजाम, मतदान रविवार को

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 11 मई 2019, 6:39 PM (IST)

चण्डीगढ । हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन ने कहा कि 12 मई को लोकसभा चुनाव के लिए पहली बार आयोग ने लोकतंत्र की मजबूती के लिए जहां तक सम्भव हुआ, सारे पुख्ता इंतजाम किए हैं। यहां तक कि आकस्मिक हवाई प्रबन्ध के लिए हैलीकाॅप्टर को तैयार (स्टेंडबाई) रखा गया है।

चुनाव प्रबंधों बारे न्यू सचिवालय सैक्टर 17 में बनाए मीडिया सैंटर में जानकारी देते हुए राजीव रंजन ने बताया कि कुल 19425 मतदान केन्द्रों में से 2463 मतदान केन्द्रों को संवेदनशील, 2734 अतिसंवेदनशील तथा 247 मतदान केन्द्रों को क्रिटिकल श्रेणी में रखा गया है। उन्होंने बताया कि कुल 82774 कर्मचारी व अधिकारियों को मतदान डयूटी के लिए पीठासीन अधिकारी लगाया गया है। चुनाव में कुल 60760 वाहन चुनावी डयूटी पर रहेंगें। इसके अलावा 537 उड़न दस्ते, 29 ऑब्जर्वर के साथ 9227 माईक्रो ऑब्जर्वर अलग अलग मतदान केन्द्रों पर मौजूद रहेंगें। इसके अलावा 10634 सैक्टर आफिसर, 82794 पोलिंग स्टाफ मतदान प्रक्रिया की मोनिटरिंग करेंगे जबकि 900 जोनल मैजिस्ट्रेट कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए फिल्ड में कमान सम्भालेंगें।


उन्होंने बताया कि 10737 कर्मचारियों को रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारियों को आब्जर्वर की सहायता के लिए विशेष रूप से तैनात किया गया है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव डयूटी में केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों की 95 कम्पनियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा हरियाणा पुलिस, एसपीओ व होम गार्ड के 58863 जवान भी चुनाव डयूटी पर रहेंगे। उन्होंने बताया कि अब तक का यह सबसे बड़ा चुनावी इंतजाम हैं जिसमें व्यापक स्तर पर कार्यबल व मशीनरी का उपयोग किया जा रहा है।

रंजन ने बताया कि आयोग के टोल फ्री नम्बर 1950 की 24 गुणा 7 घण्टे निगरानी रखने के लिए 128 काॅल सैंटर भी बनाए गए है। दिव्यांग मतदाताओं की सुविधा के लिए 2631 व्हील चेयर व 9911 वोलिंटियर अपनी सेवाएं देंगे।

उन्होंने प्रदेश के मतदाताओं से अपील की है कि वे निर्भिक व बेझिझक होकर इस व्यवस्था का उपयोग करें ओर वोट डालने से न चूके।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे