PM मोदी को मिले उपहारों की इस जगह होगी नीलामी, एकत्रित राशि आएगी इस काम

www.khaskhabar.com | Published : रविवार, 27 जनवरी 2019, 7:31 PM (IST)

नई दिल्ली। नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2014 से भेंट में दिए गए 1800 मोमेंटो की रविवार को यहां राष्ट्रीय आधुनिक कला दीर्घा (एनजीएमए) में नीलामी की गई। आयोजकों ने बताया कि नीलामी से इकट्ठा धन का इस्तेमाल नमामि गंगे परियोजना में किया जाएगा।

नीलाम की गई वस्तुओं में तलवारें, संगीत वाद्य यंत्र, पगड़ियां, शॉलें, अंगवस्त्रम, जैकेट, तीर व कमान, मास्क, कैनवास, ऐतिहासिक जगहों व हस्तियों की तस्वीरें और धातु, पत्थर, लकड़ी व प्लास्टर आफ पेरिस से तैयार मूर्तिकला से संबंधित चीजें थीं।

इस मौके पर रेलवे मंत्री पीयूष गोयल मौजूद थे। उन्होंने उपहारों का इस्तेमाल नमामि गंगा परियोजना के लिए करने पर प्रधानमंत्री को सराहा।

नीलामी में रखी गईं वस्तुओं का आधार मूल्य प्रधानमंत्री कार्यालय व संस्कृति मंत्रालय द्वारा तय किया गया था। इन्हें नीलामी से पहले एनजीएमए परिसर में तीन महीने तक प्रदर्शित किया गया।

एनजीएमए के महानिदेशक अद्वैत गणनायक ने आईएएनएस से कहा, "नीलामी पहले अक्टूबर 2018 में होनी थी लेकिन तैयारियों के कारण इसमें विलंब हुआ।"

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

नीलामी के कमरे में बोली लगाने वालों का उत्साह चरम पर था। वस्तुओं की बोली लगाने के लिए देशभर से कम से कम 60 खरीदार पहुंचे थे। 1800 चीजों में महज आधे घंटे में ही सौ से अधिक बिक गईं।

सबसे ज्यादा 12500 रुपये में थंगका वाल हैंगिंग बिकी। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की प्रतिकृति 11000 और एक पेंटिंग, जिसमें महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, सरदार वल्लभ भाई पटेल और नरेंद्र मोदी एक साथ दिख रहे हैं, नौ हजार रुपये में बिकी।

इस पेंटिंग को हिंदू सेना के उपाध्यक्ष सुरजीत यादव ने खरीदा जिन्होंने आईएएनएस से कहा कि इसके जरिए उन्होंने नमामि गंगे परियोजना के लिए अपनी तरफ से योगदान दिया है।

नीलामी सोमवार को भी जारी रहेगी।

जो सामान बच जाएंगे और कुछ अन्य महंगे सामानों की ऑन लाइन नीलामी मंगलवार से गुरुवार तक डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट पीएममोमेंटोज डॉट जीओवी डॉट इन पर होगी।

--आईएएनएस