मतगणना के दौरान न वेबकास्टिंग, न ही वाई-फाई, सिर्फ CCTV कैमरे

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 10 दिसम्बर 2018, 09:29 AM (IST)

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनाव की वोटों की गिनती कल होगी। वेब कास्टिंग को लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी। कांग्रेस की आपत्ति पर चुनाव आयोग ने रविवार देर रात निर्देश जारी करते हुए कहा कि मतगणना के समय न वेबकास्टिंग होगी और न ही मतगणना हॉल में वाई-फाई वेटवर्क का उपयोग होगा। केवल सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाएगी।
आपको बता दें कि कांग्रेस ने वेबकास्टिंग में जियो की जगह बीएसएनएल नेटवर्क का उपयोग करने की मांग की थी। कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल निर्वाचन सदन पहुंचा और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) मध्य प्रदेश को आपत्ति दर्ज कराई। पहले तो सीईओ ने कांग्रेस की इस आपत्ति को खारिज कर दिया, लेकिन बाद में विवाद की स्थिति बनते देख इस मामले में चुनाव आयोग से मार्गदर्शन मांगा था और देर रात वेबकास्टिंग न कराने का निर्णय लिया।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

वेबकास्टिंग में एक वीडियो कैमरा मतगणना केंद्र में उस स्थान पर लगाया जाता है, जहां से पूरे केंद्र की गतिविधियों पर निगाह रखी जा सके। यह कैमरा सेंट्रलाइज्ड सर्वर से जुड़ा रहता है, इसकी मदद से यहां की गतिविधियों का सीधा प्रसारण भारत निर्वाचन आयोग एवं राज्य निर्वाचन आयोग के अफसर देखते हैं।

ये भी पढ़ें - क्या आपकी लव लाइफ से खुशी काफूर हो चुकी है...!