भ्रूण लिंग परीक्षण करते डा. राजेश कुमार गरेड को किया गिरफ्तार

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 06 दिसम्बर 2018, 5:39 PM (IST)

जयपुर। राजस्थान पीसीपीएनडीटी टीम ने पिछले 6 दिनों में लगातार तीसरी डिकाय कार्रवाई करते हुये गुरूवार को जयपुर के चौमूं स्थित डा. राजेश गरेड चौंमूं जनाना एंड जनरल हास्पिटल के पंजीकृत सोनोग्राफी सेंटर पर भ्रूण लिंग परीक्षण करते डा. राजेश कुमार गरेड को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही काम में ली गयी सोनोग्राफी मशीन भी जब्त कर ली है।

अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम नवीन जैन ने बताया कि इस वर्ष की 45वीं सहित अब तक की यह 141वीं डिकाय कार्यवाही है। राजस्थान के साथ आसपास के सभी पड़ौसी राज्यों पर टीम गहन निगरानी बनाये गये हुये है। सूचना मिलते ही तुरन्त डिकाय दल तैयार कर कार्रवाई को अंजाम दिया जाता है।

जैन ने बताया कि मुखबिर के जरिए सूचना मिली थी कि चौमूं जनाना एंड जनरल हास्पिटल में एमएस डा. राजेश गरेड भ्रूण लिंग परीक्षण के गैरकानूनी व घिनौने काम में लिप्त है। सूचना के बाद रैकी की गयी एवं पुष्टि के बाद डिकाय दल तैयार किया गया। दल ने डा. राजेश से बात की और उसने 22 हजार रुपये में भ्रूण लिंग परीक्षण करने की बात कही। इसके बाद डा. राजेश ने डिकाय गर्भवती महिला को हास्पिटल बुलाया और चौंमू जनाना एंड जनरल हास्पिटल में पंजीकृत सोनोग्राफी केन्द्र पर सोनोग्राफी कर भ्रूण लिंग की जानकारी दी।

मिशन निदेशक ने बताया कि ईशारा मिलते ही दल ने डा. राजेश कुमार गरेड को गिरफ्तार कर पंजीकृत सोनोग्राफी जब्त किये। साथ ही हू-ब-हू नम्बरी नोट के डिकाय राशि भी जब्त कर ली है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे