भगवान राम ही भाजपा को देंगे सजा, आखिर क्यों, यहां पढ़ें और सुनें

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 24 नवम्बर 2018, 6:56 PM (IST)

जयपुर । एआईसीसी के संगठन महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि सीएम वसुंधरा राजे चुनाव के वक्त बौखला गई है, इसलिए उन्हें क्या बोलना है, यह समझ में नहीं आ रहा है। जयपुर में प्रेस वार्ता के दौरान गहलोत ने कहा कि चुनाव के वक्त ही भाजपा को राममंदिर याद आ रहा है और अब भगवान राम ही भाजपा को सजा देंगे। उन्होंने कहा कि भारत माता और भगवान राम भाजपा के लिए राजनीति का विषय हो सकते है, लेकिन कांग्रेस के लिए यह राजनीति का विषय नहीं है।उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम वसुंधरा राजे पर कितने ही आरोप लगे, लेकिन ये नेता आरोपों का जवाब नहीं देते है। राफेल का मुद्दा हो, या भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे का मुद्दा हो, इन दोनों ही मुद्दों पर पीएम मोदी ने कुछ भी नहीं बोला है। उन्होंने कहा जादूगर तो मैं हूं, लेकिन यह जादू अमित शाह बेटा मुझे बता दे कि लाखों रुपयों से करोड़ों रुपए कैसे कर लिये जाते है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी और सीएम राजे अपनी उपलब्धियों के आधार पर जनता के बीच नहीं जा सकते है।
गहलोत ने कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजस्थान में चुनावी दौरा करने वाले है, लेकिन वह 2 करोड़ युवाओं को रोजगार के मुद्दे पर जरूर बयान देवे। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के राजस्थान दौरे को लेकर गहलोत ने कहा कि मेरी सलाह यह है कि पहले योगी जी यूपी को संभाले, कानून व्यवस्था वहां चौपट हो चुकी है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस की चुनावी जनसभाओं से यह साफ हो चुका है कि माहौल कांग्रेस के पक्ष में है, लोगों में वसुंधरा सरकार के खिलाफ गुस्सा है। वसुंधरा सरकार ने सिर्फ बजरी, भू-माफिया और खनन माफियाओं को पनपाया है। आईएएस पकड़े गए, फिर उन्हें जमानत मिल गई और मामला ठंडा करने के लिए लोकायुक्त को जांच दी गई है।
उन्होंने कहा कि सीएम राजे ने भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है। गहलोत ने आरोप लगाया कि भाजपा राजस्थान विधानसभा चुनाव में धनबल का प्रयोग करने रही है, लेकिन प्रदेश की जनता समझ चुकी है, चाहे मोदी जी आए, या शाह जी आए, कांग्रेस के पक्ष में ही जनता वोट करेगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे