‘तब तक भारत विदेशी जमीं पर टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाएगा’

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 12 सितम्बर 2018, 2:37 PM (IST)

लंदन। इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 4-1 से हारी भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि ऐसे परिणाम भारतीय टेस्ट टीम को मजबूत बनाएंगे। वेबसाइट ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, कोहली ने कहा कि जब तक उनकी टीम अहम पलों पर ध्यान देना शुरू नहीं करती तब तक भारत विदेशी जमीं पर टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाएगा। भारत को इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट मैच में 118 रनों से हार का सामना करना पड़ा और इस कारण कोहली की टीम पांच मैचों की यह सीरीज गंवा बैठी।

इस बारे में कप्तान कोहली ने कहा, अगर हमें सीरीज में प्रतिद्वंद्वी टीम पर दबाव बनाना है, तो हमें सीरीज की अच्छी शुरुआत करनी होगी। पहला टेस्ट मैच हमेशा महत्वपूर्ण होता है। इसके लिए हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि हम सभी सही मानसिक स्थिति में हों। कोहली ने कहा कि भारतीय टीम प्रतिद्वंद्वी खिलाडिय़ों पर अपने दबाव को बरकरार नहीं रख पाती है।

इसी कारण इंग्लैंड ने इस सीरीज में भारत से नियंत्रण को छीन लिया। कप्तान ने कहा, निश्चित तौर पर हम विदेशी जमीन पर खेल सकते हैं, लेकिन हमें अहम पलों पर प्रतिद्वंद्वी टीम से बेहतर ध्यान देने की जरूरत है। इस सीरीज में हम ऐसा नहीं कर पाए। अगर हम ऐसा कर पाने में सक्षम नहीं होते हैं, तो हम विदेशों में सीरीज नहीं जीत सकते।

‘वे एक बेहतरीन खिलाड़ी और शानदार गेंदबाज हैं’

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

लंदन। भारत के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच खेल क्रिकेट जगत से संन्यास लेने वाले पूर्व कप्तान एलेस्टर कुक का कहना है कि रिकॉर्ड तोडऩे वाले तेज गेंदबाज इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी हैं। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, एंडरसन ने भारत के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच में विकेट लेने के साथ ऑस्ट्रेलिया के पूर्व गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्राथ का रिकॉर्ड तोड़ दिया। एंडरसन ने नया विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया। वे अब दुनिया में सबसे अधिक टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन गए हैं।

एंडरसन ने मैक्ग्राथ के 563 विकेट के रिकॉर्ड को तोड़ा है। टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम अब 564 विकेट हो गए हैं। कुक ने कहा, वे एक बेहतरीन खिलाड़ी और शानदार गेंदबाज हैं। वे इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी हैं। ऐसी उपलब्धि हासिल करने के लिए उनकी मानसिक और शारीरिक क्षमता का आंकलन मैं नहीं कर सकता।

ये भी पढ़ें - टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कमिंस व हैजलवुड, ये ले सकते हैं जगह