रामोस ने कहा, सभी को याद है कि मैंने सलाह को गिराया लेकिन...

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 10 सितम्बर 2018, 5:19 PM (IST)

लंदन। स्पेनिश फुटबॉल क्लब रियल मेड्रिड के कप्तान सर्जियो रामोस ने माना कि इस वर्ष लिवरपूल के खिलाफ हुए यूरोपीय चैम्पियंस लीग फाइनल के बाद उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई। स्पेन ने यहां शनिवार देर रात हुए यूरोपीय नेशन्स कप के अपने पहले मुकाबले में इंग्लैंड को 2-1 से हराया। रामोस स्पेन की राष्ट्रीय टीम के भी कप्तान हैं।

ईएसपीएन के अनुसार, इंग्लिश क्लब लिवरपूल के खिलाफ हुए फाइनल मुकाबले में स्टार फॉरवर्ड मोहम्मद सलाह और रामोस की बीच टक्कर हुई थी, जिसके बाद सलाह को कंधे की चोट के कारण मैच से बाहर होना पड़ा और फीफा विश्वकप में भी वे 100 प्रतिशत फिट नहीं थे। रामोस ने कहा, इंग्लैंड के खिलाफ मैदान पर उतरते समय दर्शकों ने मेरा अच्छे से स्वागत नहीं किया, लेकिन मैं इन सब चीजों का प्रभाव अपने खेल पर नहीं पडऩे देता।

सभी को यह याद है कि फाइनल में मैंने सलाह को गिराया, लेकिन किसी को भी याद नहीं कि मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई थी। उन्होंने कहा, यह बेहद संवेदनशील मुद्दा है, लोग भले ही इसे एक मजाक के तौर पर ले सकते हैं, लेकिन मुझे सच्चाई पता है और मुझे किसी को स्पष्टीकरण देने की जरूरत नहीं है।

‘जुवेंतस आना ही चाहते थे रोनाल्डो’

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

तुरिन। जुवेंतस के दिग्गज खिलाड़ी पावेल नेडवेड ने कहा कि पुर्तगाल के स्टार फॉरवर्ड क्रिस्टियानो रोनाल्डो खुद इटली लीग की मौजूदा चैम्पियन टीम से जुडऩा चाहते थे। पांच बार के बैलन डे ओर विजेता रोनाल्डो के 10.5 करोड़ यूरो कीमत में स्पेनिश क्लब रियल मेड्रिड से जुवेंतस में शामिल हुए थे। जुवेंतस की आधिकारिक वेबसाइट ने नेडवेड के हवाले से बताया, हम बेहद खुश हैं कि रोनाल्डो जैसे शीर्ष खिलाड़ी का अपनी टीम में स्वागत कर सकते हैं।

एक क्लब के रूप में हमने आगे की ओर एक कदम बढ़ाया है और हम चैंपियंस लीग में इसे दिखाना चाहते हैं, जो कि अगले कुछ सालों के लिए हमारा लक्ष्य है। नेडवेड ने कहा, शायद कुछ लोगों ने सोचा हो कि यह पागलपन है.. हम, जुवेंतस एक ऐसी पोजिशन में हैं जहां हमारे लिए ऐसे खिलाड़ी खरीदना कठिन है जो हमारी टीम से बेहतर हों।

हमारे खेल निदेशक ने एक बार कहा था कि हम रोनाल्डो को खरीद सकते हैं। हमें पता था कि उनका बायआउट क्लॉज कम कर के 10 करोड़ यूरो कर दिया गया है। इसलिए यह पहले से ज्यादा यथार्थवादी था। यह पूछे जाने पर कि क्लब में शामिल करने के लिए रोनाल्डो को मनाना कितना कठिन था?

नेडवेड ने कहा, यह काफी आसान था क्योंकि वे खुद जुवेंतस में शामिल होना चाहते थे। वे माहौल में बदलाव लाने के साथ मैड्रिड से दूर भी होना चाहते थे। उन्होंने हमारा क्लब चुना और यह हमारे लिए बेहद सम्मानजनक है। वे इंग्लैंड और स्पेन में जीत चुके हैं और अगर वे इटली में भी जीतते हैं तो हमें काफी खुशी होगी।

ये भी पढ़ें - शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता