सोते हुए आया सपना और बन गया करोड़पति, जानिए-कैसे काम आया आइडिया

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 10 सितम्बर 2018, 1:49 PM (IST)

नई दिल्ली। हर व्यक्ति सपने जरूर देखता है। कोई जागकर सपनों को पूरा करने के लिए देखता है। कोई सोते हुए सपने देखता है। इंसान दिन में खुली आंखों से यानी सोचते हुए अपने काम और कारोबार को आगे बढ़ते के लिए सोचता ही रहता है। लेकिन रात में आए सपने के बारे में बहुत कम ही लोग ही गौर करते है। ऐसा ही कुछ इस व्यक्ति के साथ हुआ, जिसको रात में आए सपने ने उसकी दुनिया ही बदल दी।

अमेरिका के रहने वाले माइक लिंडले को बिजनेस को लेकर सपना आया। जिसके बाद माइक लिंडले ने अपने सपने को हकीकत कर दिखाया और 2000 करोड़ का कारोबाद खड़ा कर दिया। यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि असलियत है। दरअसल, सपने में आए एक आइडिया ने वाले माइक लिंडले को 2100 करोड़ का मालिक बना दिया।

माइक को हर रात में सोने में दिक्कत होती थी, क्योंकि उन्हें उनका तकिया पसंद नहीं आता था। तकिया आरामदायक नहीं था, इसलिए उन्हें नींद नहीं आती थी। एक रात को अचानक से माइक की नींद खुली और उन्होंने घर के हर कोने में मायपिलो लिख दिया। यही पहला स्टेप था माइक के बिजनेस की शुरुआत की। आज पूरे अमेरिका में माइक पिलो किंग के नाम से मशहूर हो गए हैं। लिंडले ने मायपिलो शुरुआत अपने होमटाउन चस्का से की।

पढ़ाई के लिए करते थे दो नौकरी...

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

पढ़ाई के लिए करते थे दो नौकरी...
एक समय था जब लिंडले अपनी पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए दो-दो नौकरी करते थे। एक दिन उन्हें लगा कि वो पढ़ाई करके अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। इसी वजह से माइक ने अपनी कॉलेज को बीच में ही छोड़ दिया और अपना पूरा ध्यान नौकरी पर ही लगा दिया।

मैनेजर से लड़ाई के बाद शुरू किया बिजनेस...

ये भी पढ़ें - हवाई जहाज से भी महंगा है यह कुत्ता, जानें- खासियत

मैनेजर से लड़ाई के बाद शुरू किया बिजनेस...
सबकुछ ठीक चल रहा था कि एक दिन मैनेजर से लड़ाई हो गई और मैनेजर ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया। इसके बाद ही उन्होंने खुद का कारोबार शुरू करने के बारे में सोचा। नौकरी छोडक़र माइक ने बिजनेस में हाथ आजमाया।

सबसे पहले उन्होंने कार्पेट क्लिनिंग का काम शुरू किया। इसके बाद उन्होंने सुअर पालन का काम शुरू किया। लेकिन बाजार में मंदी होने की वजह से सबकुछ बर्बाद हो गया। इसके बाद लिंडले ने एक बार में बारटेंडर का काम शुरू कर दिया।

नशे के कारण पत्नी ने छोडा साथ...

ये भी पढ़ें - एक ऐसा मंदिर जिसमें शिला रूपी स्वयंशम्भू का आकार बढ़ रहा है

नशे के कारण पत्नी ने छोडा साथ...
बार में काम करते समय माइक को नशे की लत लग गई। ड्रग्स की वजह से माइक की पत्नी ने तलाक दे दिया और अपने घर से भी हाथ धोना पड़ा।

पूरा कारोबारचौपट हो गया, सबकुछ बर्बाद होने के बाद माइक को अचानक से होश आया और उन्होंने नए सिरे से शुरुआत की।

तकिए का स्टोर खोलकर शुरू किया बिजनेस...

ये भी पढ़ें - इस कुएं का भेद अनोखा, जो भी आया वो...!

तकिए का स्टोर खोलकर शुरू किया बिजनेस...
2011 में एक स्थानीय समाचार पत्र में माइक की कम्पनी के बारे में छपा। इसके बाद उन्होंने स्थानीय स्तर पर तकिया बनाकर बेचना शुरू कर दिया। इसमें भी उन्हें ज्यादा सफलता नहीं मिली। एक दिन एक रिटेल स्टोर ने अपने यहां उन्हें तकिया बेचने का ऑफर दिया। इसके बाद उन्होंने 10.5 लाख उधार लेकर अपना स्टोर खोला और क्रिसमस पर 80 तकिए बेचे।

माइक ने 16 जनवरी 2009 को एक पार्टी में आखिरी बार जमकर मस्ती की और शराब एवं कोकीन का सेवन किया, इसके बाद हमेशा के लिए छोड़ दिया। यह सब छोडक़र उन्होंने अपना पूरा ध्यान कारोबार पर लगाया। पहले 5 कर्मचारियों से अपनी कंपनी की शुरुआत की।

वर्तमान में माइक की कम्पनी में 500 कर्मचारी काम करते हैं। माइक की कम्पनी मायपिलो हर साल लगभग 3 करोड़ तकिए बेचती है। वहीं कंपनी की रेवेन्यू 2100 करोड़ लगभग 30 करोड़ डॉलर तक पहुंच गई है।

ये भी पढ़ें - हवाई जहाज से भी महंगा है यह कुत्ता, जानें- खासियत