ये क्या, एक्सीडेंट होने के बाद महिला ने ली दवाई, फिर जीभ पर उग आए बाल

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 08 सितम्बर 2018, 1:18 PM (IST)

वॉशिंगटन। आज के समय में कुछ भी हो सकता है। हम जिसके बारे में सोच नही सकते है वो होने लगा है। ऐसा हम इसलिए कह रहे है क्योंकि हाल ही में एक महिला के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। ये तो सब जानते है कि बीमार होने पर लोग दवाई लेते हैं और डॉक्टर एंटीबॉयोटिक भी देते हैं पर क्या हो जब उस एंटीबॉयोटिक का ऐसा रिएक्शन हो जाए जिसके कारण जीभ पर बाल उग आए।

दरअसल, एक महिला ने एक्सीडेंट होने के बाद एंटीबायोटिक ली थी पर कुछ दिनों के बाद महिला की जीभ काली हो गई और उस पर बाल भी उग आए।

वॉशिंगटन की रहने वाली 55 वर्षीय महिला को एंटीबायोटिक के रिएक्शन की वजह से ब्लैक हेयरी टंगश नाम की समस्या से गुजरना पड़ा। महिला को यह समस्या तब हुई जब उन्होंने महिला को पैरों में घाव होने की वजह से माइनोसाइक्लाइन प्रिस्क्राइब की थी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

इस दवा के साइड इफैक्ट के बारे में न्यू इंग्लेंड जर्नल मेडिसिन में छप चुका है। अक्सर यह समस्या मुंह की अच्छे से सफाई न करने पर हो जाती है। एक्सीडेंट के बाद महिला को सेंट लुइस के वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ट्रीटमेंट के एक महीने बाद महिला की जीभ काली होने लगी और उस पर बाल उग गए।

हालांकि ये एक अस्थाई समस्या है इससे कुछ नुकसान नहीं होता। इसके होने के और भी कारण हैं जैसे मुंह की अच्छे से सफाई न होना, कुछ एंटीबायोटिक का सेवन और गुटखा खाना।

डॉक्टरों ने बताया कि उन्होंने महिला को माइनोसाइक्लाइन देना बंद कर दिया और महिला को जितना हो सके मुंह साफ रखने और ब्रश करने की सलाह दी जिसके बाद एक महीने के अंदर उनकी जीब नॉर्मल हो गई।

ये भी पढ़ें - इस लडक़े को बिजली से खेलकर आता है मजा, करंट छू भी नहीं पाता-देखें फोटो