टेस्ट में डेब्यू करने वाले हनुमा विहारी ने 19 साल बाद किया यह कमाल

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 08 सितम्बर 2018, 12:33 PM (IST)

लंदन। यहां शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ ओवल मैदान पर खेले जा रहे पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के लिए अंतिम एकादश में शामिल किए गए दाएं हाथ के मध्यक्रम बल्लेबाज हनुमा विहारी भारत के 292वें टेस्ट खिलाड़ी बन गए हैं। 24 वर्षीय हनुमा के 63 प्रथम श्रेणी मैच में 5142, 56 लिस्ट ए मैच में 2268 और 65 टी20 मैच में 1219 रन हैं।

वे ऑफ स्पिन से तीनों फॉर्मेट में 52 विकेट भी ले चुके हैं। आंध्रप्रदेश के रहने वाले हनुमा को कप्तान विराट कोहली ने मैच शुरू होने से पहले कैप सौंपकर भारतीय टीम में स्वागत किया। हनुमा को हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या के स्थान पर टीम में शामिल किया गया है।

19 साल बाद आंध्र का कोई खिलाड़ी भारतीय टेस्ट टीम में पदार्पण कर रहा है। हनुमा से पहले आंध्र के एमएसके प्रसाद ने भारतीय टेस्ट टीम में पदार्पण किया था। पूर्व विकेटकीपर प्रसाद इस समय राष्ट्रीय चयनकर्ता प्रमुख हैं। 43 वर्षीय प्रसाद के खाते में वर्ष 1998 से 2000 के बीच 6 टेस्ट और 17 वनडे है।

चोट के कारण यूएई नहीं जाएंगे पोंटिंग

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

मेलबोर्न। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग पैर में चोट लगने के कारण संयुक्त अरब अमीरात (युएई) में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाली टी20 सीरीज में बतौर सहायक कोच राष्ट्रीय टीम का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। ईएसपीएन क्रिकइंफो के अनुसार, पोंटिंग को मुख्य कोच जस्टिन लैंगर के साथ टीम का सहायक कोच बनकर ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ यूएई जाना था लेकिन वे चोट के कारण ऐसा नहीं कर पाएंगे।

पोंटिंग इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड का दौरा करने वाली वनडे टीम के साथ थे। पोंटिंग एक प्रायोजक की शूटिंग के दौरान फुटबॉल को किक मार रहे थे जब उनके पांव में चोट लग गई। उन्होंने पिछले सप्ताह पैर की सर्जरी भी कराई जिसके कारण वे तीन से छह महीनों तक ठीक से चल नहीं पाएंगे। हालांकि, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और पोंटिंग इस बारे में चर्चा करेंगे कि कैसे वे टीम के साथ जुड़े रह सकते हैं।

ये भी पढ़ें - टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कमिंस व हैजलवुड, ये ले सकते हैं जगह