निशानेबाज अंजुम व अपूर्वी ने हासिल किया टोक्यो ओलंपिक का टिकट

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 03 सितम्बर 2018, 6:02 PM (IST)

चांगवान (दक्षिण कोरिया)। भारतीय निशानेबाज अंजुम मोदगिल और अपूर्वी चंदेला ने टोक्यो में 2020 में आयोजित होने वाले ओलम्पिक खेलों का टिकट हासिल कर लिया है। वेबसाइट ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, अंजुम और अपूर्वी ने निशानेबाजी (शूटिंग) में टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में भारत का खाता खोल दिया है।

दक्षिण कोरिया के चांगवान में जारी आईएसएसएफ निशानेबाजी विश्व चैम्पियनशिप में अंजुम ने महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा का कांस्य पदक हासिल किया। उन्होंने 248.4 अंक हासिल कर इस स्पर्धा में तीसरा स्थान प्राप्त किया। इसी स्पर्धा में हालांकि, अपूर्वी को 207 अंकों के साथ चौथा स्थान प्राप्त हुआ, लेकिन उन्होंने टीम स्पर्धा में अंजुम और मेहुली घोष के साथ मिलकर 1879 अंक हासिल करते हुए रजत पदक जीत लिया।

बीरेंद्र-अमित को 50-50 लाख रुपए देगी ओडिशा सरकार


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

भुवनेश्वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने सोमवार को भारतीय पुरुष हॉकी टीम के खिलाडिय़ों बीरेंद्र लाकड़ा और अमित रोहिदास के लिए 50-50 लाख रुपए की पुरस्कार राशि की घोषणा की है। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने इंडोनेशिया में आयोजित हुए 18वें एशियाई खेलों में कांस्य पदक हासिल किया। अमित और बीरेंद्र कांस्य पदक जीतने वाली हॉकी टीम का हिस्सा थे। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पाकिस्तान को मात देकर कांस्य पदक जीता था।

मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही कांस्य पदक की जीत के लिए भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बधाई भी दी। इससे पहले पटनायक ने भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल राज्य की चार खिलाडिय़ों के लिए एक-एक करोड़ रुपए की ईनामी राशि की भी घोषणा की थी। भारतीय महिला हॉकी टीम ने एशियाई खेलों में रजत पदक हासिल किया।

ओडिशा के मुख्यमंत्री ने सुनीता लाकड़ा, नमिता टोप्पो, निलिमा मिंज और दीप ग्रेस एक्का के लिए पुरस्कार एक-एक करोड़ रुपए की ईनामी राशि की घोषणा की। राज्य सरकार ने इसके अलावा एशियाई खेलों में दो रजत पदक जीतने वाली एथलीट दुति चंद के लिए तीन करोड़ रुपए की ईनामी राशि की घोषणा की। दुति ने 18वें एशियाई खेलों में महिलाओं की 100 मीटर और 200 मीटर रेस में रजत पदक जीता।

ये भी पढ़ें - शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता